यूट्यूब वर्सेज ब्लॉगिग 2024

यूट्यूब वर्सेज ब्लॉगिंग? 2024 में यदि आप डिजिटल प्लेटफॉर्म पर काम शुरू करना चाहते हैं, तो आपको यह जानना सबसे जरूरी है. आपके लिए सबसे बेस्ट कौन सा प्लेटफार्म है. जहां अपना करियर स्टार्ट करना चाहिए. जब तक डिटेल्स में इसको समझेंगे नहीं, तब तक आपके दिमाग में सही पॉइंट को समझना बहुत ही मुश्किल लगेगा. इसीलिए इस लेख में हम डिटेल्स में कंपैरिजन लेकर आए हैं. जिससे एक व्यक्ति को अपने ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर काम शुरू करने में बहुत ही ज्यादा मदद मिलेगी.

बहुत ऐसे फॉलोअर्स हैं, जिनको यह समझ में ही नहीं आता कि हमें कहां काम करना चाहिए. जिसके कारण वह कहीं से कुछ भी  इधर-उधर से जानकारी प्राप्त कर लेंगे, तथा वह काम भी शुरू कर देते हैं. लेकिन उनको वहां अच्छा इनकम नहीं होता, तथा वह उस काम के लिए फिट नहीं बैठते. जिससे समय और मेहनत दोनों ही व्यर्थ होगा.

समय के हिसाब से वर्क का जो भी क्राइटेरिया है. वह भी बदल रहा है. लोग भी अब डिजिटल होने लगे हैं. उनको लाइट, कैमरा पसंद आने लगा है. तब क्या ऐसा युग में हम आ गए हैं. अब क्या कोई कंटेंट को नहीं पढ़ने वाला. ऐसा भी बिल्कुल नहीं कह सकते. क्योंकि 50% वैसे लोग हैं, जो कंटेंट पढ़ना ही पसंद करते हैं. 50% वैसे लोग हैं, जो कि सुनना और देखना पसंद करते हैं

यूट्यूब वर्सेज ब्लॉगिंग

अब यह निर्णय लेना बहुत ही कठिन है. क्योंकि एक नए व्‍यक्ति के पास अनुभव नहीं होता है. जिसके कारण वह नहीं समझ सकते है कि हमें अब क्या करना चाहिए. देखिए सबसे पहली बात है. आपका मन कहां लगता है, वही काम शुरू करना चाहिए. जब हम दिल, दिमाग, बुद्धि, ज्ञान की तुलना करते हैं. तब हमें समझ में आता है, कि हमें कहां, किस प्लेटफार्म पर अपने कार्य प्रणाली को शुरू करना चाहिए.

Youtube vs Blogging  - यूट्यूब वर्सेज ब्लॉगिंग

लेकिन यहां सबसे बड़ा एक और प्रश्न खड़ा हो जाता है. जो भी हम आगे करने वाले हैं. उनमें क्या सबसे अधिक पैसा हमको मिलेगा. क्योंकि ऑनलाइन डिजिटल प्लेटफॉर्म पर काम लोग तभी करना चाहते हैं. जब उनको मोटी रकम वहां से मिलना शुरू हो जाए. जिसके लिए ब्लॉगिंग या यूट्यूब की कंपैरिजन जरूरी है.

पैसा, पापुलैरिटी, सम्मान, ज्ञान सब कुछ कहां मिलेगा. क्या हम एक ब्लॉग शुरू करके यह सब कुछ हासिल कर पाएंगे या हमें यूट्यूब पर वीडियो बनाना चाहिए. चलिए विस्तार से इसकी तुलना नीचे करते हैं.

यूट्यूब

यूट्यूब वर्सेज ब्लॉगिंग – जहां तक यूट्यूब की बात की जाए, तो आज का सबसे ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म है. क्योंकि सबको लाइट, कैमरा, आवाज, प्रैक्टिकल चीज देखना, समझना, पढ़ना पसंद है. यह सब कुछ यूट्यूब पर मिलेगा. यहां बहुत ज्यादा इनकम भी होगा.

यह एक ऐसा प्लेटफार्म हैं, जहां सब कुछ मिलता है. यहां सबसे ज्यादा पैसे भी हैं. यहां सबसे ज्यादा लोग भी सर्च करते हैं. ज्ञान, प्रैक्टिकल नॉलेज सब कुछ मिलेगा. लेकिन क्या आप इसपर सफलता हासिल कर सकेंगे. यह एक बहुत अच्छा रहस्य है. क्योंकि इसको जब तक नहीं समझेंगे तब तक आपको कुछ नहीं मिलेगा.

अब एक चीज समझना होगा कि क्या आप यूट्यूब के लिए बने हैं. क्योंकि यहां बहुत लोग फेल हो जाते हैं. धैर्य, परिश्रम, निरंतर सीखने की जिसके पास कला है. वही यूट्यूब पर सफल होगा. जिसके लिए हमें सही से बोलना आना चाहिए. एडिटिंग के अलावा टेक्निकल चीजों को समझना भी चाहिए. क्योंकि यहां आप कई वर्षों तक लगातार काम करते रह जाएंगे. 

लेकिन यहां से ₹1 भी नहीं मिल पाएगा. बल्कि आपका समय और मेहनत भी बेकार हो जाएगा. क्योंकि यहां दिमाग की जरूरत है. जिसके पास टेक्निकल माइंड है, जो कुछ एक्स्ट्रा सोच सकते होंगे. वही लोग यहां सफल होंंंगे. लेकिन एक चीज है कि यहां यदि एक बार आप सफल हो गए, तो फिर पैसे ही पैसे बारिश की तरह आएंगे.

तब क्या आपको यूट्यूब पर काम शुरू कर देना चाहिए. इसका जवाब स्वयं ढूंढना है. क्योंकि जो भी मुख्य बातें हमने आपको यहां बताया है. उसके अनुसार आप बेहतर निर्णय ले सकते हैं कि हमें कहां क्या करना चाहिए और हमारे लिए बेस्ट क्या होगा.

ब्लॉगिंग

यूट्यूब वर्सेज ब्लॉगिंग – इसमें चेहरा की कोई बहुत बड़ी भूमिका नहीं होती है. बस जो चीज लिखा रहेगा, उसी का सबसे ज्यादा वैल्यू है. यहां वही सबसे जल्दी आगे बढ़ पाएंगे. जिसको लिखने का शौक होगा. जो किसी विषय के एक्सपर्ट होंगे. अनुभव रखते होंगे. वे लोग इसपर सफलता प्राप्त कर पाएंगे. लेकिन एक चीज और समझना होगा, यहां भी टेक्निकल ज्ञान होना चाहिए.

क्योंकि इसमें भी आपको वेबसाइट डिजाइन, डेवलपमेंट, एडिटिंग की जरूरत पड़ेगी. जहां बेहतर इमेज बनाना पड़ेगा. ब्लॉग की सेटिंग करनी पड़ेगी. सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन करना पड़ेगा. तभी एक ब्लॉग वेबसाइट गूगल में टॉप पोजीशन पर रैंक करेगा.

जिसके लिए अधिक परिश्रम, मेहनत, लगन, श्रद्धा सब कुछ जरूरी है. यह सब कुछ आपको दो-तीन महीने में नहीं मिलेगा. इसके लिए बरसों मेहनत करना पड़ेगा. 1 साल, 2 साल तक जब आप इस क्षेत्र में निरंतर काम करेंगे. धीरे-धीरे सब कुछ सीखने लगेंगे, तब यहां पर सफलता मिलेगी.

उसके बाद भी गूगल के एल्गोरिथम को समझना पड़ेगा. क्योंकि आप गूगल के गाइडलाइन के हिसाब से काम नहीं करेंगे, तो आपके साइट पर पेनल्टी लगा दिया जाएगा. इसके बाद कई महीने, वर्षों तक आपके साइट पर ट्रैफिक जीरो हो जाता है. फिर आपका कमाई बंद हो जाएगा. इसीलिए यह ऐसा जगह है, जहां आपको अपडेट रहना पड़ेगा. गूगल की जो भी नई गाइडलाइन आती हैं. उसको जानना पड़ेगा. उसके अनुसार अपने साइट पर काम करना पड़ता है. तब यहां पैसे मिलते हैं

कमाई

यूट्यूब वर्सेज ब्लॉगिंग – भारत में भी कई अन्‍य भाषाओं में ब्लॉगिंग पर काम किया जा रहा है. लेकिन सबसे ज्यादा कमाई आपको इंग्लिश ब्लॉग पर होगी. जिसके लिए वैसे लोग इंग्लिश में ब्लॉगिंग शुरू कर पाएंगे. जो अंग्रेजी के एक्सपर्ट हैं. यदि आप किसी और भाषा में ब्लॉगिंग शुरू करेंगे, तो उसमें आपको भारत में कम सीपीसी मिलेगा. जिसके कारण आपका कमाई कम होगा.

लेकिन जब आपने ब्लॉग वेबसाइट पर लाखों में ट्रैफिक होंगे. तब आप अच्छा इनकम करेंगे. लेकिन लाखों में ट्रैफिक लाने के लिए आपको कम से कम 500, 1000 यूनिक हाई क्वालिटी वाले आर्टिकल्स लिखने पड़ेंगे. तभी आपके साइट पर इतना ट्राफिक आएगा. जिसके लिए आपको लगन, मेहनत की आवश्यकता पड़ेगी.

ब्लागिंग में भी आपको सफलता पाने के लिए बहुत मेहनत करना पड़ता है. तब आप यहां आगे बढ़ पाते हैं. लेकिन एक चीज यहां आसान है, कि केवल पोस्‍ट लिख करके डालते रहना है. जबकि यूट्यूब पर आपको कई टेक्निकल चीजों का सामना करना पड़ेगा. जैसे कैमरा के सामने बोलना, वीडियो एडिट करना, थंबनेल बनाना यह कुछ प्रमुख चीज हैं. जिसको करना पड़ता है और यह सब चीज हर कोई नहीं कर सकता.

यूट्यूब वर्सेज ब्लॉगिंग

अब यूट्यूब वर्सेज ब्लॉगिंग का फाइनल निष्कर्ष यही है, कि यदि कैमरा फेस करने में समस्या है. तब ब्लागिंग में काम शुरू कर दीजिए. लेकिन आपको लिखने की कला नहीं आती है. तब यूट्यूब पर काम प्रारंभ करिए. एक चीज़ दोनों में सबसे अलग है.

यूट्यूब पर आप एक बार सफल हो गए, तो फिर वहां आपको अनलिमिटेड कमाई होगी. क्योंकि एक वीडियो यदि वायरल हो जाता हैं. वही वीडियो हो सकता हैं कि 2 करोड़, 2 करोड लोगों तक चला जाएगा. तब आपको एक वीडियो कई लाख रुपया कमा करके दे सकता है. 

लेकिन ऐसा आपको ब्लागिंग में नहीं होगा. कब आपका ट्रैफिक नीचे आ जाएगा, कब ट्रैफिक ऊपर चला जाएगा, इसका कोई गारंटी नहीं होता हैं. ब्लागिंग में बहुत सारे चैलेंज फेस करने पड़ेंगे. जैसे आपको यहां ट्रैफिक मेंटेन करके रखना बहुत ही कठिन काम है.

यहां आपको रोज नए-नए टॉपिक पर लेख लिखने पड़ेंगे. जबकि यूट्यूब पर बिल्कुल अलग है. यहां आप एक टॉपिक पर 5 से 10 वीडियो भी बना पाएंगे. बस थोड़ा सा गैप दे देकर बनाना पड़ेगा. लेकिन ब्लागिंग में आपको हर रोज कुछ नए टॉपिक ढूंढना होगा. 

उसपर बेहतर आर्टिकल्स लिखना हैं. तब वह रैंक करता हैं. जिसके लिए बैकलिंक बनाना, डोमिन आथॅरिटी इंक्रीज करना और बहुत प्रकार के काम होगा. जो कि आपको यूट्यूब पर नहीं करना पड़ेगा. यूट्यूब पर सर्च इंजन एक्टिवेशन करना भी आसान हैं. लेकिन ब्लागिंग में सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन करना उसके तुलना में कठिन हैं. अब इन सभी पॉइंट्स के आधार पर आप स्वयं बेहतर निर्णय लें सकते हैं.

सारांश

इस लेख में हम सभी लोगों को पूरी ईमानदारी से जानकारी दिए हैं. जिसमें उन्हें बताया हैं कि 2024 में यूट्यूब वर्सेज ब्लॉगिंग में कौन सा आपके लिए बेस्ट प्लेटफॉर्म हो सकता हैं. जहां आप अपने करियर को शुरू करेंगे. तब आपको वहां सबसे बेस्ट रिजल्ट मिल सकता हैं. इसके बारे में हमने पूरा कंपैरिजन करके सब कुछ समझाया भी हैं. आशा करते हैं कि आपको यह दी गई इनफॉर्मेशन बहुत ही ज्यादा अच्छा लगा होगा. जिससे करियर शुरू करने में आसानी जरूर होगी.

Leave a Comment