यूट्यूब एसईओ कैसे करें – SEO 2024

यूट्यूब एसईओ कैसे करें? एक नए यूट्यूबर को एसईओ जरूर करना चाहिए. क्योंकि बिना सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन किए वीडियो सर्च रिजल्ट में नहीं जाता है. जिसके लिए उन्हें सबसे अच्छा एसईओ करना चाहिए. यदि अभी तक आप कई वीडियो बना चुके हैं. लेकिन आपको सफलता नहीं मिल पाई है, तो हम आपको इस लेख में यूट्यूब वीडियो का सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन कैसे करते हैं, के बारे में बताएंगे.

जिससे आपका वीडियो तुरंत सर्च इंजन में जाएगा. इसके बाद वहां से आपको लगातार ट्रैफिक वीडियो पर प्राप्त होगा. जिससे आपका वॉच टाइम इंक्रीज होगा. व्यूज बढ़ेंगे. सब्सक्राइबर भी तुरंत 1000 पूरा हो जाएगा. जिसके लिए यूट्यूब एसईओ सिखना चाहिए.

गूगल और यूट्यूब यह दो सबसे बड़ा खोज इंजन वेबसाइट है. जहां पर लोग अपने Query का उत्तर पाने के लिए विजिट करते हैं. अब जिस चीज के बारे में आप अपना कंटेंट तैयार किए हैं. उस कंटेंट को अधिक लोगों तक पहुंचाने के लिए आपको सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन करना पड़ता है.

जिसके लिए कुछ रूल और रेगुलेशन होते हैं. जिसको फॉलो करके इसको पूरा किया जा सकता है. गूगल की तरह ही यूट्यूब का भी सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन होता है. लेकिन दोनों में थोड़ा सा भिन्नता है. जिसको समझना होगा. इसके बारे में हम लोग स्टेप बाय स्टेप नीचे सीखेंगे.

यूट्यूब में एसईओ क्या है

आप जानते हैं कि विश्व का दूसरा सबसे ज्यादा सर्च किए जाने वाला वेबसाइट प्लेटफार्म यूट्यूब है. जहां पर लोग वीडियो में जानकारी प्राप्त करने के लिए कुछ भी कीवर्ड सर्च करते हैं. इसके बाद यूट्यूब का एल्गोरिथम आपके खोज किए गए, सवाल का सटीक जवाब देने का प्रयास करते हैं. यह पूरी तरह से एक एल्गोरिथम के ऊपर काम करता है.

Youtube SEO Kaise Kare - यूट्यूब एसईओ

जिससे जो भी आप खोजते हैं, उसका जवाब सबसे पहले अपने प्लेटफार्म पर ढूंढेंगा, इसके बाद आपको उसका रिजल्ट दिखाएगा. अब आपको एक चीज समझना है, कि वहां पर कोई आदमी नहीं बैठा है. जो आपके सवालों का जवाब खोजकर देगा.

यह सब कुछ ऑटोमेटिक एक प्रोग्रामिंग के तहत होता है. एक ऐसा प्रोग्राम डेवलप किया गया है. जो जितने भी वीडियो डाला जाता है, उसको रीड करेगा. इसके बाद उससे संबंधित जब कोई भी व्यक्ति सवाल पूछता है, उसको वह वीडियो दिखा देता है.

यूट्यूब में एसईओ कैसे करें

अब सबसे बड़ा सवाल है कि यह हम कैसे कर सकते हैं. जब भी आप अपना वीडियो अपलोड करेंगे. जो भी आप अपने वीडियो में बोलेंगे, उसको यूट्यूब पढ़ता है. उसके बाद जो आप वीडियो का फाइल नेम, टाइटल, डिस्क्रिप्शन, टैग डालेंगे. उसको भी यूट्यूब पढ़ेगा. जिसके आधार पर उस वीडियो को रैंकिंग मिलेगा.

यदि अपना यह पूरा प्रोसेस सही तरीके से आप नहीं किए हैं. तब आपका एसईओ अच्छा नहीं होता है. जिसके कारण आपका जो वीडियो है, वह सबसे नीचे चला जाएगा. जिसको कोई भी व्यक्ति नहीं देख पाता. जिसके कारण आपको भी उसपर सब्सक्राइबर और वॉच टाइम नहीं मिलेगा.

अब इस तीनों के लिए आपको जो यूट्यूब एसईओ का एल्गोरिथम को समझना होगा. इसके बारे में हम नीचे आपको स्टेप बाय स्टेप बता रहे हैं. सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन का काम कीवर्ड रिसर्च से शुरू होता है. क्योंकि जब भी आप एक कंटेंट बनाने का प्लानिंग करते हैं. उस समय सबसे पहले आपके दिमाग में कोई न कोई सवाल आता है.

जिसको कीवर्ड कहा जाता है. अब आपको यह सोचना होगा, कि जो सवाल हम अपने मन में सोच रहे हैं, क्या उसको लोग सर्च कर रहे हैं. जिसके लिए आपको कुछ टूल्स की जानकारी हासिल करनी होगी. सबसे पहला काम एसईओ का कीवर्ड रिसर्च है.

कीवर्ड रिसर्च एक ऐसा कीवर्ड खोजना होगा, जिस पर डिफिकल्टी कम हो और ज्यादा सर्च हो रहा हो. वैसे कीवर्ड पर आप अपना एक वीडियो बनाएंगे. अब यदि आप एक अच्छा टॉपिक का चयन कर लिए हैं. उसके बाद अगला काम बोलने के लिए कंटेंट तैयार करना होगा. उसमें भी आपको कुछ सावधानी बरतना होगा. जिसके लिए नेक्स्ट स्टेप में हम बात करेंगे.

वीडियो बनाना शुरू करें

अब जब बोलना शुरू करेंगे, तो सबसे पहले टॉपिक के बारे में बात करना है. जिस चीज पर आप वीडियो बनाएंगे. उसको सबसे पहले बोलें. क्योंकि यूट्यूब कोई आदमी नहीं है, जो आपके टॉपिक को समझ जाएगा. जो चीज आप बोलते हैं, उसी को रीड करता है और उसी के अनुसार आपके वीडियो का रैंकिंग होगा. 

इसलिए आप अपने वीडियो में अपने टॉपिक को शुरू में बोलें, बीच में बोले, लास्ट में बोले और कहीं-कहीं जहां जरूरत है, वहां उसको आप जरूर बोलें. यह गलती बहुत लोग करते हैं. जिसके कारण वह बिना प्लानिंग के कोई भी टॉपिक उठाकर वीडियो बना लेंगे. लेकिन उनको ही पता नहीं है कि हम किस टॉपिक पर वीडियो बना रहे हैं.

उसका टाइटल, डिस्क्रिप्शन कैसे लिखना है. टैग में हमें क्या डालना है. यह सब उनको कुछ पता नहीं होता है. बस ऐसे ही कुछ भी बोल करके वीडियो बना लेंगे, जो कि यह गलत होगा.

1. वीडियो का फाइल नेम एडिट करें

अब जब आपका पूरा कंटेंट बनकर तैयार हो गया, एडिट कर लिए. उसके बाद अपने वीडियो का फाइल नेम एडिट करिए और वहां पर जिस कीवर्ड पर आप रैंक करना चाहते हैं. उस शब्द को आप वहां पर डाल कर सेव करें.

2. वीडियो अपलोड करें

अब आपको यूट्यूब को ओपन करके अपना वीडियो को अपलोड करना है. यहां पर एक चीज आपको ध्यान रखना है, कि तब तक आपको इंटरनेट चालू रखना है. जब तक आपका वीडियो पूरी तरह से अपलोड नहीं हो जाएगा. यहां पर आपको लगभग चार से पांच स्टेप यूट्यूब पूरा करके पूरा कंटेंट आपका अपलोड करेगा. जिसमें कुछ समय लगेगा. सबसे पहले अपलोडिंग होगा. उसके बाद हाई डेफिनेशन में कन्वर्ट किया जाएगा. फिर वीडियो का चेकिंग होगा.

इसके बाद आपका शुरू से लेकर अंत तक के सारे कंटेंट को हाई डेफिनेशन में यूट्यूब ऑप्टिमाइज करेगा. इसके बाद आपको वहां पर लास्ट में एक मैसेज दिखाई देगा, No issues इन योर कंटेंट. तब यहां पर आपको धैर्य बनाए रखना होगा और आपको आगे नहीं बढ़ना है. जब तक की पूरे वीडियो को यूट्यूब अच्छे से पढ़ नहीं लेता. अभी इसी बीच में आपको कुछ और भी काम करना है. जिसको नीचे हम बता रहे हैं.

3. टाइटल

जो आपका प्रमुख टॉपिक वाला कीवर्ड है. उसको सबसे पहले टाइटल में डाल दें. उसमें हर एक शब्द का पहला लेटर कैपिटल में लिखना है. यहां पर एक साफ सुथरा टाइटल लिखना है. जिसमें कम से कम 60 लेटर होना चाहिए तथा अधिक से अधिक 100 कैरेक्टर लिख सकते हैं. आप अपने कीवर्ड का वेरिएशन भी 1 से 3 बार तक यहां पर अच्छे से लिख लें.

4. डिस्क्रिप्शन

जो भी चीज आप अपने टाइटल में लिखे हैं. बस उसे कॉपी करके डिस्क्रिप्शन में सबसे ऊपर आपको पेस्ट कर देना है. उसमें किसी भी तरह का बदलाव नहीं करना है. उसके बाद नीचे डिस्क्रिप्शन में उस वीडियो से संबंधित कुछ जानकारी देना चाहते हैं, तो जरूर लिखें. लेकिन जो आपका कीवर्ड है, उसको सबसे ऊपर में जैसा टाइटल है, वैसा ही लिखेंगे.

जिस टॉपिक पर आप वीडियो बनाए हैं. उससे संबंधित जितने भी कीवर्ड सर्च किए जा रहे हैं. उन सारे कीवर्ड का लिस्ट आप एक कागज पर लिखकर रखेंगे. जिसके लिए आपको कहीं दूसरे जगह नहीं जाना है. यूट्यूब पर जाएंगे, वहां पर आप इनकॉग्निटो मॉड में ऑन कर लेंगे.

इसके बाद जो भी आपका कीवर्ड है. उसका एक या दो शब्द टाइप करेंगे, तो पूरा नीचे उसका सजेशन दिखाई देगा. इस तरह से जितना भी रिलेटेड कीवर्ड का सजेशन आपको दिखाई दे रहा है. उसको एक कागज पर लिख लीजिए. उसके बाद सारे कीवर्ड को अपने डिस्क्रिप्शन में नीचे डालिए.

डिस्क्रिप्शन में किसी इंटरनल लिंक को भी लगा सकते हैं. जैसे पहले आप इसी टॉपिक से रिलेटेड कोई वीडियो बनाया हैं, तो उसका इंटरनल लिंकिंग भी अपने डिस्क्रिप्शन में जरूर डालिए. आपने सोशल मीडिया का लिंक शेयर कीजिए. जैसे फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, इंस्टाग्राम इत्यादि. अपने बारे में एक दो लाइन परिचय आप यहां लिख सकते हैं.

डिस्क्रिप्शन में सबसे नीचे आपको तीन #लगाना चाहिए. जो कि आपके टॉपिक से बिल्कुल मिलता जुलता हो. जैसे यदि आप एसईओ पर एक कंटेंट बनाए हैं, तो उसका #आप इस तरह से लगाएंगे. #SEO. यूट्यूब वीडियो वायरल कैसे करें

5. टैग

जो आपका प्रमुख कीवर्ड हैं. जिसको आप टाइटल में लिखे हैं. उसको कॉपी करके सबसे पहले टैग में डालिए. उसके बाद जो भी उससे मिलता-जुलता शब्द होगा. जिस पर सर्च किया जा रहा हैं. उसको भी टैग में जरूर शामिल करें. इसमें आपको कम से कम 300 कैरेक्टर का टैग जरुर डालना चाहिए. जिसको लोग सर्च कर रहे हैं, वैसे कीवर्ड को टैग में जरुर डालें.

सारे कीवर्ड आपको यूट्यूब में मिलेंगे. जैसे हमने पहले बताया हैं, कि आप वहां जाकर सर्च बॉक्स में पूरा शब्द जो सर्च किया जा रहा हैं. उसको कहीं कॉपी पर लिख कर रखेंगे और उसी को टैग में डालेंगे.

5. थंबनेल

अब जब आप एक थंबनेल बनाएंगे, तो उस समय आपको ध्यान रखना है, कि जिस टॉपिक पर आपका वीडियो बना हैं. उस टॉपिक को आपके पूरे थंबनेल पर हाईलाइट करके दिखाना है. ताकि जब भी कोई उसको देखे, तो उसको केवल आपका टॉपिक ही दिखाई दे, तो थंबनेल पर बाकी कुछ और दिखाई नहीं देना चाहिए. ऐसा थंबनेल बनाएं कि देखने के बाद उस पर कोई भी व्यक्ति क्लिक जरूर करें.

क्योंकि इसी से आपका CTR इंक्रीज होता है, जो कि किसी भी वीडियो को वायरल होने के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है. जब आपका थंबनेल हाई क्वालिटी का होगा, तभी वीडियो पर CTR इंक्रीस होगा. थंबनेल बनाने के बाद जब उसको सेव करेंगे, तो उसके फाइल नेम में वीडियो का जो टॉपिक है उसी को डालेंगे.

यूट्यूब ऑफ पेज एसईओ कैसे करें

जब आप अपने वीडियो को पब्लिश कर देते हैं. उसके बाद वीडियो का ऑफ पेज सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन करना पड़ता है. जिसके लिए आपको कहीं दूसरे जगह जाने की जरूरत नहीं है. सब कुछ अपने वीडियो के माध्यम से ही करेंगे और यह सब कैसे होगा, उसको स्टेप बाय स्टेप नीचे पढ़ें.

1. वॉच टाइम

जो भी विजिटर आपके वीडियो को देखते हैं. वह कंटेंट पूरा वॉच करेंगे, तो आपका एसईओ सबसे बेस्ट माना जाएगा. इसीलिए यह सबसे जरूरी हैं, कि आप अपने विजिटर को ऐसे कंटेंट बनाकर के दें. जिससे वह बीच में देखना बंद नहीं करें. यह एक सबसे बड़ा रैंकिंग फैक्टर हैं. क्योंकि इसी से आपका वीडियो सर्च रिजल्ट में सबसे ऊपर दिखाई पड़ता हैं. इसलिए एसईओ आपको बेहतर करना होगा. जिसके लिए जो भी आपके व्यूवर्स हैं. उनके लिए दमदार कंटेंट बनाना होगा.

2. लाइक्स

यूट्यूब एसईओ में लाइक्स की भी बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका है. क्योंकि जितने भी विजिटर वीडियो को देखते हैं. उन्होंने आपके वीडियो को लाइक किया या डिसलाइक किया है. इससे भी आपका सर्च इंजन रैंकिंग प्रभावित होगा. इसीलिए जो भी आपके विजिटर हैं, उनको अपने वीडियो को लाइक करने के लिए प्रेरित जरूर करें. क्योंकि जितना ज्यादा लाइक होगा, उतना ही ज्यादा आपका रैंकिंग यूट्यूब में मजबूत होगा. यूट्यूब वीडियो पर व्यूज कैसे बढ़ाएं 

3. कमेंट्स

जब पूरा वीडियो कोई विजिटर देख लेंगे. उसके बाद उस वीडियो के बारे में अपना ओपिनियन कमेंट के माध्यम से साझा करेंगे. जहां पर उस वीडियो में दी गई जानकारी कैसा लगा, के बारे में अपना ओपिनियन शेयर करते है. इसलिए जितने अधिक से अधिक लोग आपके वीडियो पर कमेंट करेंगे, उतना ही ज्यादा आपके लिए फायदेमंद होगा. जिससे आपका यूट्यूब वीडियो वायरल भी हो सकता हैं. क्योंकि अधिक संख्या में लोग अच्छा-अच्छा कमेंट यदि कर रहे हैं, तो फिर समझिए कि आपका वीडियो पूरा तहलका मचाने वाला है.

4. शेयर

विजिटर आपका वीडियो देखने के बाद उसको शेयर भी करें, तो आपके लिए यूट्यूब ऑफ पेज एसईओ सबसे ज्यादा अच्छा होगा. जिससे अधिक से अधिक लोगों के पास वीडियो पहुंचेगा. इसलिए अपने व्यूवर्स को बोल सकते हैं, कि वे लोग वीडियो को व्हाट्सएप पर अपने लोगों के साथ साझा करें. जिससे अधिक से अधिक संख्या में लोगों के पास वीडियो यूट्यूब भी रिकमेंड करेगा.

5. यूट्यूब कंसिस्टेंसी

सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन में कंसिस्टेंसी भी एक बहुत बड़ा भूमिका अदा करता है. आप किसी भी प्लेटफार्म पर कुछ भी पब्लिश करते हैं, तो उसमें निरंतर होनी चाहिए. जिसके लिए एक टाइम शेड्यूल होना चाहिए. यदि आप यूट्यूब पर वीडियो पब्लिश करते हैं, तो उसके लिए एक टाइम फ्रेम सेट कर लीजिए और नियमित रूप से आपको वीडियो उसी समय पर अपलोड करना होगा.

यह भी सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन का एक सबसे बड़ा महत्वपूर्ण पाठ है. जिसका ध्यान में रखना है. यदि आप दो दिन पर ही कंटेंट अपलोड करते हैं, तो दो दिन का गैप देकर निरंतर कंसिस्टेंट होकर कंटेंट को अपलोड करते रहें.

सारांश

यूट्यूब एसईओ कैसे करें के बारे में कंप्लीट जानकारी देने का प्रयास किए हैं. जिससे आप अपने यूट्यूब वीडियो का ऑप्टिमाइजेशन बेहतर कर सकते हैं. आशा करते हैं कि यह जानकारी आपके यूट्यूब करियर में एक नया बदलाव कर सकता है. जिसका परिणाम आपको तुरंत अच्छा मिल सकेगा.

यदि इस लेख में दी गई इनफॉर्मेशन से आपका करियर यूट्यूब पर बदल जाता है, तो एक बार आप इस वेबसाइट पर आकर अच्छा कमेंट जरुर करिए. जिससे हमें और भी बेहतर कंटेंट बनाने का सिलसिला और भी निरंतर जारी रहे.

सवाल जवाब

Q1. यूट्यूब पर कीवर्ड कैसे लगाएं?

Ans. यूट्यूब में आपको पांच जगह पर कीवर्ड लगाना पड़ता हैं. सबसे पहला वीडियो फाइल नेम, टाइटल, डिस्क्रिप्शन, टैग, थंबनेल, में कीवर्ड जरूर लगाए.

Q2. यूट्यूब एसईओ क्या है और इसकी प्रक्रिया समझाइए?

Ans. अपने वीडियो, कंटेंट को सर्च इंजन के लिए ऑप्टिमाइज करने की प्रक्रिया को ही सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन कहते हैं. जो कि गूगल या यूट्यूब पर किया जाता हैं.

Q3. यूट्यूब चैनल में SEO क्या है?

Ans. सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन एक ऐसी प्रक्रिया है. जिससे आप अपने यूट्यूब चैनल को ऑप्टिमाइज करते हैं. यूट्यूब को आप बताते हैं, कि हम इस चीज के बारे में इनफार्मेशन आगे शेयर करने वाले हैं.

Q4. एसईओ कैसे करते हैं.

Ans. कीवर्ड रिसर्च करके वीडियो कंटेंट पूरा अच्छे से बनाते हैं. जिसके बाद टाइटल, डिस्क्रिप्शन, टैग में अपना कीवर्ड डाल देते हैं. ऐसे ही सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन करते हैं.

Q5. Vidiq

Ans. नए लोगों को यूट्यूब के हर छोटी से छोटी जानकारी सीखने के लिए विडआइक्‍यू का उपयोग करना चाहिए. जो आपको यूट्यूब चैनल सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन, कीवर्ड रिसर्च सब कुछ स्टेप बाय स्टेप करने में मदद करता है.

Leave a Comment