वाइटी स्टूडियो बार-बार खोलने से क्या होता है 

वाइटी स्टूडियो बार-बार खोलने से क्या होता है. क्या चैनल डैड हो जाता हैं. इस तरीके के सवाल लोग अधिकतर यूट्यूब पर सर्च करते हैं, तथा इसके ऊपर कई वीडियो भी बनाया गया है. लेकिन क्या इसका हकीकत है. उसके बारे में भी जानना बहुत ही जरूरी है. क्योंकि यूट्यूब में वाइटी स्टूडियो को किसलिए बनाया गया है तथा एक क्रिएटर को इसका उपयोग कैसे करना चाहिए.

इन सभी सवालों का जवाब आपको इस लेख में हम प्रदान करेंगे. मेरा नाम रवि शंकर तिवारी है और मैं पिछले कई वर्षों से यूट्यूब पर काम कर रहा हूं. जहां हम अपने चैनल जिसका नाम मिस्टर रवि शंकर तिवारी है. उसपर यूट्यूब टिप्स के बारे में इनफॉर्मेशन शेयर करता हूं. उसके आधार पर जो भी हमारा अनुभव है. उसका पूरा लाभ आपको इस लेख में हम देने का प्रयास करेंगे.

वाइटी स्टूडियो बार-बार खोलने से क्या होता है 

देखिए वैसा कोई ऑफिशियल इनफॉर्मेशन यूट्यूब के तरफ से नहीं बताया गया है कि यदि आप बार-बार वाइटी स्टूडियो ओपन करते हैं, तो उससे कोई गलत आपके चैनल पर प्रभाव पड़ेगा. लेकिन जब आप इसको गलत तरीके से उपयोग करेंगे. तब उसका नकारात्मक प्रभाव पड़ेंगे. लेकिन बार-बार यदि आप अपने चैनल का परफॉर्मेंस या फिर अपने चैनल से रिलेटेड इनफॉर्मेशन प्राप्त करने के लिए यूट्यूब स्टूडियो ओपन करेंगे, तो उससे कोई चैनल पर नकारात्मक प्रभाव नहीं पड़ेगा. बल्कि आप यूट्यूब स्टूडियो से अपने चैनल को कैसे ग्रो कर सकते हैं. 

उसके लिए क्या हमें अपने चैनल पर बदलाव करने की आवश्यकता है. इन सभी चीजों के बारे में आप जानकारी प्राप्त करेंगे. जो आपके यूट्यूब चैनल को ग्रो करने के लिए सबसे जरूरी भी है. लेकिन कुछ लोग वाइटी स्टूडियो केवल इसलिए ओपन करते हैं. ताकि वह अपने वीडियो का परफॉर्मेंस देख सके. वहां जाकर वह देखेंगे कि उनके वीडियो पर व्‍यूज नहीं आ रहा है. जिसके कारण उनके अंदर नकारात्मक चीज चलने लगेगी तथा वह अपने वीडियो के टाइटल, डिस्क्रिप्शन या टैग में छेड़छाड़ करने लगते हैं. थंबनेल बदलना शुरू कर देंगे तथा अन्य कई प्रकार की गतिविधियां शुरू करेंगे. 

yt studio ko bar bar kholne se kya hota hai

YT Studio

जिसके कारण जब आप किसी भी वीडियो का बार-बार थंबनेल, टाइटल, डिस्क्रिप्शन, टैग, # इत्यादि को बदलते हैं तब इससे आपके चैनल पर नकारात्मक प्रभाव पड़ेगा और आपका चैनल सही तरीके से ग्रो नहीं होगा. क्योंकि जब आप किसी भी वीडियो को बनाएंगे. उस समय किसी एक टॉपिक पर ही वीडियो बनाते हैं. लेकिन जो वीडियो बन जाएगा. उसके बाद वाइटी स्टूडियो में उसका बार-बार टाइटल, थंबनेल, डिस्क्रिप्शन, टैग इत्यादि बदलेंगे. लेकिन उसमें बताए गए कंटेंट तो वही होते हैं. जिसके कारण यूट्यूब के एल्गोरिथम आपके वीडियो को नेगेटिव तरीके से ट्वीट करते हैं. 

क्योंकि जो भी इनफॉर्मेशन वीडियो में दिया गया है. वह किसी एक ही टाइटल पर हो सकता है या एक ही प्रकार का हो सकता है. लेकिन उसमें आप जब ज्यादा बदलाव करने लगेंगे. तब यूट्यूब स्टूडियो आपके लिए बहुत ही ज्यादा नकारात्मक रूप से उपयोग होने लगेगा और इसका कारण भी स्वयं आप ही होते हैं. बल्कि वाइटी स्टूडियो आपको किसी भी प्रकार के बदलाव के लिए प्रेरित नहीं करता है न वैसा कोई इनफॉर्मेशन वहां आपको मिलेग. जिससे आप किसी भी प्रकार का कोई भी बार-बार बदलाव कर सके. लेकिन यूट्यूब पर अलग-अलग वीडियो देखते हैं. जहां से आपको कई प्रकार के गलत इनफॉर्मेशन भी मिल जाते हैं. उसके आधार पर भी यूट्यूब स्टूडियो में जाकर छेड़छाड़ करने लगेंगे. तब आपको इसका दुष्परिणाम भी दिखाई पड़ेगा.

वाइटी स्टूडियो में क्या देखना चाहिए

वाइट स्टूडियो को इसलिए बनाया गया है कि जो भी क्रिएटर हैं. वह अपने चैनल का व्यूज, क्लिक थ्रू रेट, एवरेज व्यू ड्यूरेशन, सबसे ज्यादा सर्च किया जाने वाला कीवर्ड, कितना देर तक आपके वीडियो को देखा जा रहा है, उसपर कितना सब्सक्राइबर मिल रहे हैं. आपके चैनल पर कौन-कौन से कीवर्ड को सबसे ज्यादा लोग सर्च कर रहे हैं. आपके वीडियो को किस तरीके से आगे यूट्यूब प्रमोट कर रहा है. उदाहरण के लिए सजेस्टेड, रिकमेंडेशन, सर्च से या अन्य प्रकार से जितने भी व्यूज आपके वीडियो पर आते हैं. 

उन सभी प्रकार के इनफॉर्मेशन आपको वाइटी स्टूडियो में मिलेगा. जिसमें आप बार-बार यह भी देखते हैं कि आपके चैनल पर कहां-कहां से लोग विजिट कर रहे हैं. कब, किस, टाइम पर सबसे ज्यादा ऑडियंस आपके वीडियो को देखते हैं. आपके वीडियो को देखने वाले जो भी सब्सक्राइबर हैं. वह और दूसरे कौन-कौन से चैनल को देखते हैं तथा अभी सबसे ज्यादा किस टॉपिक पर लोग वीडियो देखना पसंद कर रहे हैं. इन सभी चीजों के बारे में इनफॉर्मेशन आपको यूट्यूब स्टूडियो के अंदर मिलेगा. लेकिन जब आप एक नए यूट्यूबर होते हैं तो इन चीजों पर ज्यादा ध्यान नहीं देते हैं. 

बल्कि उन चीजों पर ज्यादा ध्यान देने लगेंगे. जो आपके चैनल को प्रभावित कर सकता है. लेकिन यदि आप सही तरीके से जो भी चीज हमने यहां बताया है. उन सभी चीजों का एनालिसिस करेंगे. उसपर बेहतर तरीके से काम करने का प्रयास करेंगे, तो फिर आपके लिए यह सभी पॉइंट्स बहुत ही ज्यादा फायदेमंद होंगे. यह पॉइंट्स आपके चैनल को आगे बढ़ाने में भी बहुत ज्यादा मदद करेंगे.

1 दिन में वाइटी स्टूडियो कितना बार ओपन करना चाहिए 

इसका कोई फिक्स्ड आंकड़ा नहीं है कि कितना बार ओपन करना चाहिए. लेकिन बड़े-बड़े यूट्यूबर या एक रिसर्च के आधार पर आपके बिना जरूरत के बार-बार वाइटी स्टूडियो नहीं खोलना चाहिए. इससे आपका दिमाग प्रभावित होता है. आपके अंदर नकारात्मक विचार आते हैं. लेकिन आप 5 से 7 बार 1 दिन में केवल सही इनफॉर्मेशन प्राप्त करने के लिए यूट्यूब स्टूडियो ओपन करेंगे तो सबसे ज्यादा अच्छा होगा. क्योंकि बार-बार खोल करके और आप सभी चीजों को एनालिसिस करेंगे. जिससे आप कल जो वीडियो बनाने वाले हैं. उसका भी परफॉर्मेंस खराब होगा. क्योंकि इन सभी चीजों को देखकर आप आने वाले वीडियो को भी अच्छे तरीके से नहीं बना पाएंगे. 

इसीलिए केवल यह सोचना है कि हमें अच्छा बेहतर से बेहतर कंटेंट बना करके अपलोड करना है. बल्कि यह नहीं देखना है कि कितना व्यूज आ रहा है और कितना वॉच टाइम सब्सक्राइबर बढ़ रहे हैं. यह सब कुछ देखने से ज्यादा व्‍यूज नहीं बढ़ते हैं. ज्यादा से ज्यादा बेहतर हाई क्वालिटी के वीडियो थंबनेल अच्छे से टाइटल डिस्क्रिप्शन और टैग लिखना निरंतर यह सब कुछ चैनल पर सही तरीके से फॉलो करते हैं. तब किसी एक चैनल को बहुत जल्द यूट्यूब ग्रो करता है और यही कुछ महत्वपूर्ण पॉइंट्स है. जिससे समझ गए होंगे कि आपको अपने यूट्यूब स्टूडियो में क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए.

Leave a Comment

Discover more from gyanitechraviji.com

Subscribe now to keep reading and get access to the full archive.

Continue reading