यूपीएस क्‍या हैं यूपीएस का फुल फॉम क्‍या हैं

डेक्सटॉप कंप्यूटर को पावर सप्लाई देने के लिए UPS  का इस्तेमाल किया जाता हैं.

Ups kya hai in hindi इस लेख में हम लोग यूपीएस के बारे में बात करने वाले हैं. UPS ka full form, UPS क्यों जरूरी हैं.

UPS कितने प्रकार के होता हैं. इसका लाभ क्या हैं. यूपीएस कहानी क्या हैं. यूपीएस और इनवर्टर में क्या अंतर हैं. यूपीएस के पार्ट्स कौन-कौन से होते हैं. इन सभी सवालों का जवाब नीचे मिलने वाला हैं. चलिए जान लेते हैं यूपीएस के बारे में. प्रिंटर क्‍या हैं

What is ups in hindi

यूपीएस एक पावर सप्लाई करने वाला मशीन हैं. जिससे जब लाइन कट जाता हैं. उस समय कंप्यूटर को डायरेक्ट बंद होने से बचाता हैं. जिससे कंप्यूटर के फाइल फोल्डर प्रोग्राम स्कोर करप्ट होने से बचाता हैं.

यदि कंप्यूटर डायरेक्ट बंद हो जाए तो, फाइल फोल्डर प्रोग्राम और ऑपरेटिंग सिस्टम का करप्ट होने का खतरा बन जाता हैं. इसलिए जब लाइन काटता है. तोUPS COMPUTER को पावर सप्लाई करता हैं. और कंप्यूटर को बंद करने का अवसर देता हैं. जिससे कंप्यूटर को आसानी से बंद कर दिया जाए.

Ups kya hai in hindi

कंप्यूटर यूपीएस का यूजेज अधिकतर डेस्कटॉप और टैब कंप्यूटर के लिए ही उपयोग किया जाता हैं. क्योंकि लैपटॉप में यूपीएस अलग से कनेक्टेड नहीं होता हैं. लैपटॉप और टैब में पावर सप्लाई के लिए बैटरी लैपटॉप में कनेक्ट होता हैं.

जिससे टैब और लैपटॉप को पावर सप्लाई होते रहता हैं. डेक्सटॉप कंप्यूटर में यूपीएस का बहुत ही बड़ा रोल होता हैं. क्योंकि जब लाइन कट जाता हैं तो उस समय यूपीएस 10 से 15 मिनट का समय प्रदान करता हैं. जिससे डेक्सटॉप कंप्यूटर को आसानी से कार्य करते हुए बंद कर दिया जाए. सॉफ्टवेयर क्‍या हैं

Types of Computer UPS  

  • Standby
  • Line Interactive
  • Assistant Buy Online Hybrid
  • Standby Ferro
  • Double Conversion Online
  • Data Conversion Online

Advantages of Computer UPS –  यूपीएस का मुख्य लाभ यह हैं कि कंप्यूटर को डायरेक्ट बंद होने से बचाता हैं. यूपीएस कंप्यूटर को सेफ और सुरक्षित रखता हैं. यूपीएस कंप्यूटर को पावर सप्लाई करता हैं. यूपीएस कंप्यूटर को सुरक्षित और सुचारू रूप से चलाने का कार्य करता हैं.

यूपीएस का कमजोरी – यूपीएस केवल डेस्कटॉप कंप्यूटर को ही पावर सप्लाई कर सकता हैं. यूपीएस 10 से 15 मिनट का  बैकअप प्रदान करता हैं. यूपीएस के बैटरी को 1 साल पर ही बदलना या रिपेयर करना पड़ता हैं. डेक्सटॉप कंप्यूटर में यूपीएस अलग से लेना पड़ता है जिसका कॉस्ट बढ़ जाता है.

Ups vs Inverter

 यूपीएस और इनवर्टर में बहुत प्रकार के अंतर हैं जैसे यूपीएस डेस्कटॉप कंप्यूटर को पावर सप्लाई करता है यूपीएससी कार्यालय ऑफिस के कंप्यूटर के लिए भी प्रयोग किया जाता है यूपीएस घर के अन्य जरूरतों के लिए पावर सप्लाई नहीं कर सकता है यूपीएस को पावर सप्लाई करने का क्षमता कम होता है यूपीएस केवल 10 से 15 मिनट तक पार को सप्लाई कर सकता है.

इनवर्टर इनवर्टर से पूरे घर के जरूरतों के लिए पावर सप्लाई किया जाता है इनवर्टर से डेस्कटॉप कंप्यूटर में पावर सप्लाई नहीं किया जाता है क्योंकि इसमें बहुत जल्द पावर सप्लाई करने का फंक्शन मौजूद नहीं है.

इनवर्टर कंप्यूटर डेस्कटॉप को पावर सप्लाई करने के लिए सुरक्षित नहीं है इनवर्टर से लंबे समय तक के लिए अपने घर के फैन फ्रिज वाल्व आदि को पावर सप्लाई दिया जा सकता है जबकि यूपीएस ज्यादा देर तक पांच सप्लाई नहीं दिया जा सकता है यूपीएस का फुल फॉर्म अनइंटरप्टेड पावर सप्लाई होता है.

Parts of the Computer ups

  • Rectifier battery charger
  • Static bypass switch or controller
  • Battery
  • Inverter

UPS ka full form in hindi – UPS full form : – UNINTERPUTTED POWER SUPPLY यूपीएस का फुल फॉम अनइनट्रपट्रेड पावर सप्‍लाई होता हैं.

साराशं 

यूपीएस क्या है, यूपीएस का उपयोग क्या है यूपीएस के बारे में इस लेख में पूरी जानकारी दी गई है. फिर भी यूपीएस से संबंधित किसी भी प्रकार का सवाल मन में हैं  तो कृप्या कमेंट करके जरूर बतायें तथा यूपीएस के बारे में दी गई जानकारी के बारे में अपना राय कमेंट करके जरूर बताएं.

यूपीएस के बारे में दी गई जानकारी को आप सोशल मीडिया पर भी, अपने दोस्त, मित्रों के साथ शेयर जरूर करें.टेक्नोलॉजी कंप्यूटर ऑनलाइन कमाई एवं माइक्रोसॉफ्ट वर्ड माइक्रोसॉफ्ट एक्सेल अन्य अपडेट जानकारी पाने के लिए इस वेबसाइट को विजिट  करते रहे.

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

Leave a Comment