Stress in hindi स्ट्रेस क्या हैं स्ट्रेस से छुटकारा कैसे पाए

स्ट्रेस क्या हैं stress in hindi स्ट्रेस का मुख्य कारण क्या हैं तथा इससे कैसे बचा जा सकता हैं अक्सर किसी न किसी व्यक्ति के जिंदगी में ऐसा समय आता हैं जब वह तनाव महसूस करता हैं टेंशन से भरा उसका समय बीतने लगता हैं हर समय तनाव में रहता हैं मानसिक स्थिति बिगड़ने लगता हैं ऐसे ही स्थिति को स्‍ट्रेस के नाम से जाना जाता हैं। स्ट्रेस क्या हैं stress meaning in hindi, stress management in hindi, stress in hindi meaning, what is stress in hindi, stress definition in hindi, stress kya hai, stress kya hota hai के बारे में इस लेख में नीचे पूरी जानकारी दी गई हैं यदि आप भी स्ट्रेस के बारे में जानना चाहते हैं।

स्‍ट्रेस क्या हैं सर्च करते हुए इस लेख पर आए हैं तो यहां पर आपको स्ट्रेस क्या हैं क्यों लोगों को स्ट्रेस का सामना करना पडता हैं उनको टेंशन तनाव की समस्या क्यों होता हैं तथा इससे कैसे निजात पाया जाता हैं तथा कैसे इस से बाहर निकला जा सकता हैं इन सभी चीजों के बारे में इस लेख में नीचे विस्तार से जानकारी दी गई हैं।

जब आदमी तनाव में होता हैं टेंशन में होता हैं तो उस समय उसको किस चीज से बचना चाहिए तथा टेंशन को कैसे कम करना चाहिए उसको कैसे मैनेज करें इन सभी चीजों के बारे में भी जानना बहुत जरूरी हैं क्योंकि इस स्ट्रेस से बाहर निकलना तथा स्‍ट्रेस से मुक्ति पाना हर एक स्ट्रेस से भरा व्यक्ति के लिए जानना तथा उसको ठीक से मैनेज करना बहुत ही जरूरी होता हैं नहीं तो धीरे-धीरे व्यक्ति टेंशन में और भी जाने लगता हैं जिससे उसका मानसिक स्थिति पूरी तरह से बिगड़ने लगता हैं। पढ़ाई में मन कैसे लगाएं

स्ट्रेस क्या हैं what is stress in hindi

स्ट्रेस का मतलब हिंदी में तनाव टेंशन मानसिक संतुलन बिगड़ना होता हैं स्‍ट्रेस यानी कि तनाव हर एक व्यक्ति के जीवन में कभी न कभी जरूर आता हैं लेकिन कुछ लोग इस तनाव स्ट्रेस को हैंडल कर लेते हैं जबकि कुछ लोग स्ट्रेस से जूझने लगते हैं। जब व्यक्ति एस्ट्रेस यानी कि तनाव में होता हैं तब उसको सही और गलत सोचने की क्षमता होता हैं उसमें कमी आ जाता हैं तथा वह हर समय नेगेटिव बातों से भरा हुआ रहता हैं।

तथा उसके शरीर में तरह तरह का परेशानी शुरू हो जाता हैं जैसे कि उसका धड़कन बढ़ने लगता हैं या फिर वह इतना परेशान हो जाता हैं कि पसीना आने लगता हैं और भी तरह तरह के शारीरिक बदलाव होने लगते हैं इस तरह के 2 लक्षण होते हैं इसी को स्‍ट्रेस यानी तनाव कहा जाता हैं।

स्ट्रेस तनाव क्यों होता हैं

stress in hindi तनाव होने का कारण तरह तरह के हो सकते हैं वैसे जब किसी व्यक्ति के जीवन में उतार-चढ़ाव आता हैं या उसके जो काम करने का तौर तरीका होता हैं उसने कुछ हानि होता हैं या कुछ ऐसा घटना उसके जीवन में घट जाता हैं जिसको वह सोचता भी नहीं हैं कभी इस तरह के जो भी घटनाक्रम होता हैं उससे व्यक्ति के दिमाग पर असर पड़ता हैं और वह तनाव महसूस करने लगता हैं और तनाव भी धीरे-धीरे इतना ज्यादा हावी हो जाता हैं कि उसका पूरा दिनचर्या ही बिगड़ जाता हैं।

वैसे तनाव स्‍ट्रेस हर एक व्यक्ति के जीवन में आता हैं चाहे वह वर्तमान समय हो या फिर बीते हुए समय हो या आने वाला कल हो हर समय लोग तनाव महसूस करते हैं या जिंदगी में तनाव आता हैं लेकिन उसको हैंडल करना अपने आप को तनाव से बाहर निकालना तथा तनाव से हटकर कुछ अलग चीजों को करना बहुत जरूरी होता हैं।

क्योंकि तनाव से बाहर निकलने के लिए सबसे जरूरी हैं कि किसी दूसरे कार्यों में अपने दिमाग को लगाएं या कोई खेलकूद हो या मनोरंजन संबंधी काम हो इस तरह के कामों में अपने आपको ज्यादा लगा कर के तनाव से बाहर निकला जा सकता हैं क्योंकि यदि ज्यादा देर तक स्‍ट्रेस आपके ऊपर हावी रहा तो आपको इससे बहुत ही ज्यादा क्षति हो सकता हैं इसलिए कभी भी तनाव को अपने ऊपर हावी न होने दें नहीं तो इससे आपके शरीर में तरह तरह के रोग उत्पन्न हो सकते हैं आपका रहन-सहन पूरा बिगड़ सकता हैं खानपान की स्थिति बिगड़ सकती हैं आपका जीवन अस्त-व्यस्त हो सकता हैं इससे निपटने के लिए मनोरंजन का साधन अपनायें फिर आप जो करें किसी ऐसे जगह पर जाएं जहां पर जाने के बाद आपको तनाव कम महसूस हो इस तरह से आप अपने तनाव को स्ट्रेस को अपने जीवन से निकालने का हर संभव प्रयास करें।पुत्र प्राप्ति के लिए क्या करें। पुत्र प्राप्ति के लिए डेट कैसे निकाले

स्‍ट्रेस तनाव से होने वाले नुकसान

  • वजन का घटना
  • हृदय संबंधी बीमारियों का होना
  • उम्र का कम होना
  • परिवारिक जीवन वास्त व्यस्त होना
  • पति पत्नी के बीच रिश्तो में तानाव

तनाव क्यों होता हैं stress in hindi

लोग टेंशन तथा तनाव में आने का मुख्य कारण क्या हो सकता हैं यह भी जानना बहुत ही जरूरी हैं तनाव का सबसे बड़ा कारण हैं काम या परिवारिक समस्या नौकरी या अन्य तरह के और भी कारण हो सकते हैं जिससे तनाव होने लगता हैं। वर्तमान समय में बहुत से ऐसे लोग हैं जो कि बेरोजगार हैं और बेरोजगारी ही सबसे बड़ा तनाव का कारण हैं बेरोजगारी बढ़ने के कारण लोगों के पास आमदनी कम हो गया हैं पैसों की कमी हैं जिससे तनाव लोगों पर हावी होता हैं। पैसा एक ऐसा चीज हैं जिससे लोगों को परेशानी होता हैं पैसा नहीं होता हैं तो तनाव आने लगता हैं स्‍ट्रेस का कारण बन जाता हैं आइए नीचे कुछ तनाव के मुख्य करण जानते हैं।

  • नौकरी
  • बेरोजगारी
  • पैसा
  • पति पत्नी के बीच विवाद
  • पारिवारिक तनाव
  • नौकरी में दबाव
  • खानपान सही नहीं होना
  • शादी के बाद तलाक हो जाना
  • नसा का सेवन करना
  • गलत आदतों का आदि हो जाना
  • मारपीट तथा हिंसा से जुड़े हुए लोगों के साथ रहना

ऊपर में कुछ तनाव के कारणों के बारे में बताया गया हैं लेकिन और भी बहुत तरह के ऐसे कारण हो सकते हैं जिससे स्ट्रेस यानी कि तनाव जीवन में आ सकता हैं हर एक व्यक्ति के जीवन में अलग अलग तरह का परेशानी हो सकता हैं अलग-अलग कारण हो सकता हैं जिससे उनको टेंशन हो सकता हैं इसलिए सबसे जरूरी हैं कि आप इस तरह के जो भी टेंशन से संबंधित बातें हैं उससे बाहर निकलने का प्रयास करें और अपने आप को ऐसा बनाएं ऐसा एक मजबूत इंसान की तरह पेश करें कि आपके ऊपर से तनाव हट जाए और आप इससे बाहर निकले।

Safalta ka Tips:- सफल इंसान कैसे बने

तनाव को कैसे महसूस करें stress in hindi

कभी-कभी अक्सर ऐसा होता हैं कि लोगों को समझ में नहीं आता हैं कि उनको हुआ क्या हैं लेकिन यह सबसे जरूरी हैं कि आप इस बात को समझें कि आप को किसी तरह की बीमारी हैं या आप तनाव के कारण बीमार हो गए हैं यह समझना और जानना बहुत ही जरूरी हैं।

इसलिए तनाव के जड़ को जानना समझना बहुत ही जरूरी हैं तनाव एक ऐसा चीज हैं जिससे लोग डिप्रेशन में चले जाते हैं और उनको तरह-तरह की बीमारियां घेर लेती हैं जिससे वे अलग-अलग तरह के ऐसा हरकत करने लगते हैं जिससे लोगों को ऐसा लगता हैं कि यह गंभीर बीमारी का शिकार हो गए हैं यदि आप भी किसी ऐसे परेशानी या बातों से टूट चुके हैं जिससे कि आपके जीवन पर समस्या खड़ा हो गया हैं तो सबसे जरूरी हैं कि आप अपने टेंशन तनाव को समझें और उस पर आप विचार करके उसको उससे बाहर निकलने का प्रयास करें तो आप का सबसे बड़ा बीमारी जो हैं और ठीक हो सकता हैं।Benefits of Reading Newspaper in hindi न्यूज़ पेपर पढ़ने से लाभ क्या हैं

तनाव से बाहर कैसे निकले

stress in hindi यदि आप डिप्रेशन में हैं तनाव में हैं टेंशन में हैं तो उससे बाहर निकलने के लिए क्या करना चाहिए जो व्यक्ति तनाव में हैं उसको सबसे जरूरी हैं कि वह कभी भी अकेले नहीं रहे तथा वे अपने परिवार के साथ हर समय अपने बातों को साझा करें लोगों से ज्यादा से ज्यादा बात करना शुरू करें तनाव जिस चीज से हैं उस संबंध में सोचना शुरू करें अपने परिवार के लोगों के साथ बात करना शुरू करना चाहिए।

आप जिस भी भगवान को मानते हैं पूजते हैं उनका आप ध्यान करें योग करें। कभी भी अपने आप को खाली महसूस नहीं होने दे कुछ न कुछ काम में लगे रहे अच्छी-अच्छी किताबें को पढ़ें धार्मिक ग्रंथों को पढ़ें वैसे लोगों से बात करें जो कि आप को प्रेरित करते हो मोटिवेट करते हो। इस तरफ से आप अपने तनाव को कम कर सकते हैं तथा यदि इन सब चीजों के बाद भी आपको तनाव कम नहीं हो रहा हैं तो आपको घबराने की कोई जरूरत नहीं हैं।

तनाव से बाहर निकलने के लिए डॉक्टर से सलाह लें

stress in hindi  ऊपर बताए गए सभी टिप्स को यदि आप फॉलो करते हैं फिर भी आप तनाव से बाहर नहीं आ रहे हैं तो आप किसी भी नजदीकी डॉक्टर से सलाह ले सकते हैं जिससे आपको तनाव से बाहर निकलने में सहायता होगा क्योंकि जब आप किसी मनोचिकित्सक के पास जाएंगे तो वहां पर उनके द्वारा जो परामर्श आपको मिलेगा उससे आप बिल्कुल तनाव डिप्रेशन से बाहर निकल सकते हैं।

जिस तरह का भी आपके शरीर में परेशानी हैं दिक्कत हैं उसको ठीक करा सकते हैं उससे बाहर निकल सकते हैं इसलिए यदि आप तनाव में हैं स्ट्रेस में हैं तो डॉक्टर का भी परामर्श अवश्य लें इससे आपको तनाव से छुटकारा मिलने का पूरा उम्मीद हैं। ऑनलाइन पढ़ाई कैसे करें

तनाव से जुड़े अपना स्वयं का विचार

कभी-कभी ऐसा होता हैं कि हम भी अपने जीवन में तनाव टेंशन में आ जाते हैं महसूस करने लगते हैं क्योंकि अलग-अलग तरह के बात या समय ऐसा होता हैं जब लोग तनाव में आ जाते हैं तो उससे बाहर निकलने के लिए कैसे हम लोग प्रयास करते हैं उससे बाहर कैसे निकलते हैं जहां तक मेरा मानना हैं तो यदि कभी भी जीवन में तनाव आ जाता हैं या टेंशन आ जाता हैं तो उससे बाहर निकलने के लिए हम लोग जगह को बदल लेते हैं किसी दूसरे काम में अपने दिमाग को लगा देते हैं समाचार सुनना हो या बाहर टहलने के लिए निकल सकते हैं।

अपने दोस्तों से बात करना शुरू कर सकते हैं या वैसे लोगों के साथ बात करना शुरू करते हैं जिससे हमें प्रेरणा मिलती हैं या फिर कोई धार्मिक ग्रंथ को पढ़ना शुरू कर देते हैं भगवान का आराधना शुरू कर देते हैं या और भी जो अच्छी पुस्तक हैं जिससे पढ़ने के बाद मन को शांति मिलता हैं वैसे पुस्तक को भी पढ़ना शुरू कर देते हैं और इस तरह से तनाव से निकलने तथा इससे पूरी तरह से हम लोग छुटकारा पाने में सफल हो सकते हैं तो इस तरह से आप भी अपने जीवन में तनाव को खत्म कर सकते हैं कम कर सकते हैं।

सारांश stress in hindi

स्ट्रेस क्या हैं stress in hindi स्‍ट्रेस से कैसे छुटकारा पाया जा सकता हैं स्ट्रेस क्यों होता हैं इन सभी चीजों के बारे में इस लेख में पूरी जानकारी दी गई हैं फिर भी यदि स्‍ट्रेस से संबंधित कोई सवाल आपके मन में हैं तो कृपया कमेंट करके जरूर पूछें स्ट्रेस के बारे में दी गई जानकारी आपको कैसा लगा कृपया कमेंट करके अपना राय जरूर दें और इस जानकारी को अपने दोस्त मित्रों के साथ शेयर भी जरूर करें। 12वीं के बाद साइंस स्‍टूडेंट क्या करें

रिज्यूम कैसे बनाएं

कॉपीराइट फ्री इमेज डाउनलोड कैसे करें

डाटा एंट्री ऑपरेटर कैसे बने

यूपीआई आईडी क्या हैं यूपीआई आईडी कैसे बनाते हैं

डाटा इंट्री कैसे करते हैं

IIT क्या होता हैं IIT का फुल फॉर्म क्या होता हैं

Leave a Comment

error: Content is protected !!