लूडो गेम क्या है, लूडो का इतिहास, लूडो खेलने के नियम

Ludo game in hindi, लूडो गेम के बारे में कुछ जानकारी जीवन में खेल एक ऐसा चीज है जिससे आदमी बहुत ही ज्यादा आकर्षित होता है क्योंकि कोई भी खेल खेलने से शरीर में एक नई ऊर्जा का संचार होता है। भारत में वैसे बहुत से ऐसे गेम है जो बहुत ही प्रचलित हैं जिसमें एक गेम लूडो भी है। इस गेम को कभी भी लोग अपने घर में खाली समय में खेलना पसंद करते हैं।

लूडो एक ऐसा गेम है जिसमें ज्‍यादा से ज्‍यादा चार लोग या कम से कम 2 लोग खेल सकते हैं। लूडो में 16 गोटियां होती है। इसको खेलने के लिए एक डाइस होता है जिसमें है 1 से लेकर 6 तक का नंबर दिया हुआ रहता है।

लुडो एक बहुत ही मजेदार गेम है जिसको कभी भी खाली समय में दो लोग मिलकर भी खेल सकते हैं। इसमें बहुत ज्यादा समय भी नहीं लगता है क्योंकि इसमें दी गई जो गोटिया होती हैं उसको घर में पहुंचाना होता है। जिसको खेलने में कम से कम 1 से 2 घंटे का समय लगता है। फ्री् फायर गेम 

Ludo game in hindi

यह एक प्रकार का खेल है जिसमें कम से कम दो लोग और अधिक से अधिक 4 लोग एक साथ खेल सकते हैं। पहले लूडो गेम ऑफलाइन मोड में ही खेला जाता था लेकिन आज के समय में ऑनलाइन मोड में भी खेला जाता है कई ऐसी ऑनलाइन वेबसाइट है जिस पर लूडो ऑनलाइन भी खेल सकते हैं।

लूडो गेम ऑफलाइन खेलने के लिए दो लोगों की आवश्यकता होती है या तीन या चार लोग एक साथ भी खेल सकते हैं। यदि ऑनलाइन आप लूडो गेम खेलना चाहते हैं तो उसके लिए आपको किसी वेबसाइट पर जाकर के पार्टनर बनाकर के लूडो गेम को खेल सकते हैं।

लूडो गेम खेलने का अपना अलग-अलग पसंद होता है इसलिए बहुत ऐसे लोग हैं जो कि ऑफलाइन ही अपने परिवार के साथ बैठकर खेलना पसंद करते हैं। जिसमें इंटरनेट या किसी भी प्रकार के सिस्टम या स्मार्टफोन की भी आवश्यकता नहीं होती है। 

इसके लिए आपको एक बाजार से लूडो बोर्ड खरीदना होता है और आसानी से बिना किसी डिवाइस एवं इंटरनेट के कभी भी घर में घर के सदस्यों के साथ एक साथ बैठकर खेल सकते हैं।

लूडो गेम एक मनोरंजन का साधन है पढ़ने वाले बहुत ऐसे छात्र भी हैं जो कि पढ़ाई से समय निकाल कर के कभी एक दो घंटा इस गेम को खेलना पसंद करते हैं। भारत में इस खेल को अधिकतर खेला जाता है इसके अलावा भी कई ऐसे देश हैं जहां पर इस गेम को अधिकतर खेला जाता है। फ्री् फायर गेम 

लूडो का इतिहास

लूडो एक बहुत ही पुराना खेल है इसका पुराना नाम चौसर या पच्चीसी है। महाभारत में पांडवों और कौरवों के बीच जो खेल खेला गया था उसे चौसर कहते हैं उसी खेल का बदला हुआ रूप लूडो है। इस खेल का साक्ष्य महाभारत, शिव पुराण, गीता ग्रंथ आदि में भी मिलता है। महाभारत में चौसर के खेल में पांडवों नें अपना सारा राज पाट और अपनी पत्नि द्रौपदी भी हार गये थे। 

भगवान शंकर ने भी कैलाश पर्वत पर माता पार्वती के साथ खेले थे।

इसके बाद इसमें कुछ बदलाव करके अकबर के समय इस खेल का नाम पच्चीसी बोर्ड रखा गया। 

लेकिन धीरे-धीरे इस खेल में कई लोगों ने कई नियम लगाकर इसका नाम बदलकर लूडो कर दिया।

लूडो शब्द लैटिन भाषा का एक शब्द है जिसका मतलब आई प्ले यानी कि मैं खेलता हूं है। ऐसा माना जाता है कि लूडो खेल का शुरुआत तो भारत में ही चौसर नाम से हुआ था लेकिन इसका नाम बदलकर नियम बदल कर लूडो कर दिया गया और यह खेल विदेश से आया है। फ्री् फायर गेम 

लूडो गेम के नियम

यह एक ऐसा खेल हैं जिसे विश्‍व में हर देश में खेला जाता हैं।लूडो एक बोर्ड के बने हुए तख्ती पर या कागज के बने हुए चौकोर डिजाइन होता है उस पर खेला जाता हैं। उस बोर्ड पर चार रंग के चौकोर डिजाइन जैसा बनाया हुआ होता है और उन चारों खानों में चार अलग-अलग कलर होता है।जैसे कि लाल,पिला,हरा और ब्‍लू ।

इस खेल में कम से कम 2 और ज्यादा से ज्यादा 4 खिलाड़ी एक साथ बैठकर खेल सकते हैं। सभी खिलाड़ी अपने अपने गोटियों का चयन करते हैं। इस खेल में चार लोग अलग-अलग भी खेल सकते हैं या दो दो लोगों का टीम बनाकर भी खेला जा सकता है।

लूडो में एक घनाकार डाइस होता है इस डाइस पर नंबर लिखे रहते हैं जिन पर 1, 2, 3, 4, 5 और 6 नंबर होते हैं। प्लास्टिक के डिब्बे में डाल कर या हाथ से भी इस डाइस को गिराते हैं। खेल के शुरुआत में गोटी को घर में से निकालने के लिए डाइस में 6 आना जरूरी है। उसके बाद जितना नंबर आता है उसी नंबर के अनुसार गोटी को आगे की तरफ बढ़ाया जाता है। 

लूडो बोर्ड पर जगह जगह पर स्टॉप भी रहता है अगर किसी का गोटी स्टॉप पर रहता है तो दूसरा खिलाड़ी उस गोटी को काट नहीं सकता है। अगर गोटी स्टॉप पर नहीं रहता है तो दूसरा खिलाड़ी अपनी गोटी से काट देता है और वह वापस घर में चला जाता है। फिर से 6 आने पर गोटी निकाला जाता हैं।

लूडो खेलने के लिए जरूरी सामान

यह एक रणनिती खेल माना जाता हैं। इस गेम को खेलने के लिए ज्यादा सामान का जरूरत नहीं होता है ज्यादा जगह का जरूरत नहीं होता है इसलिए इस खेल को स्त्री पुरुष बच्चे बूढ़े हर कोई अपने घर में भी बैठ कर आसानी से खेल सकते हैं। 

लूडो खेलने के लिए ज्यादा खर्चा भी नहीं करना पड़ता है एक बार लूडो खरीदने के बाद बहुत दिनों तक बहुत लोग खेल सकते हैं। लूडो गेम को खेलने के लिए कुछ जरूरी सामान की जरूरत होती है।

  • एक लूडो बोर्ड जिस पर चार कलर का चौकोर डिजाइन बना रहता हैं।
  • एक डाइस जिसमें 6 साइड होता है और हर एक साइड पर एक से लेकर 6 तक नंबर लिखा रहता है।
  • चार  अलग अलग कलर की 16 गोटिया होती हैं
  • कम से कम 2 और ज्यादा से ज्यादा 4 खिलाड़ी।
  • एक डिब्बा जिसमें डाइस डालकर घुमाकर बोर्ड पर गिराया जाता है जिससे जितना नंबर आएगा उसी के अनुसार गोटी आगे चला जाएगा।

Ludo khelne ka tarika

पहले के लोग ज्यादातर घर में लूडो बोर्ड पर ही खेल लेते थे लेकिन आज के समय में इंटरनेट का क्रेज होने की वजह से ऑनलाइन भी लूडो खेला जा सकता है। ऑनलाइन लूडो खेलने के लिए मोबाइल में कई ऐप है जिस को डाउनलोड करके खेल सकते हैं। लूडो खेलने के लिए मोबाइल ऐप का नाम इस प्रकार है फ्री् फायर गेम 

  • लूडो क्लब 
  • लूडो मास्टर 
  • लूडो मास्टर 
  • लूडो किंग 
  • लूडो सुप्रीम गोल्ड

ऑनलाइन लूडो कैसे खेलें

लूडो खेलने के लिए लूडो किंग एक ऐसा डिजिटल ऐप है जिस पर ऑनलाइन या ऑफलाइन दोनों तरीकों से आसानी से खेल सकते हैं।

लूडो किंग ऐप को सबसे पहले अपने मोबाइल में प्ले स्टोर से डाउनलोड करें और उस पर गेस्ट के रुप में लॉगिन करना पड़ता है।

इस पर ऑनलाइन कई दोस्त बनाकर उनके साथ खेल सकते हैं या ऑफलाइन अकेले भी खेल सकते हैं।

लूडो खेलने के फायदे

लूडो एक ऐसा गेम है जिसको खेलने के लिए ज्यादा समय और ज्यादा जगह की भी जरूरत नहीं होती है ज्यादा लोगों कh भी जरूरत नहीं होती है। अगर दो लोग भी साथ हैं तो लूडो कहीं भी रखकर खेल सकते हैं। इस गेम को मनोरंजन के माध्यम से खेला जाता है लेकिन साथ ही इससे कई तरह के लाभ भी होते हैं। शरीर के लिए कई प्रकार से फायदेमंद भी होता है।

  • लूडो खेलने से सबसे पहला फायदा यह होता है कि तो अगर कोई बच्चा खेलता है तो काउंटिंग करने की क्षमता मजबूत हो जाती है।
  • इस खेल को खेलने से यादाश्त मजबूत होती है क्योंकि इसमें बहुत ही सोच समझकर गोटी को आगे बढ़ाया जाता है दूसरे खिलाड़ी के गोटी को काटने के लिए कई तरह के दिमाग लगाए जाते हैं। 
  • इसमें निर्णय लेने की क्षमता बढ़ती है क्योंकि अगर किसी खिलाड़ी को अपना गोटी आगे बढ़ाना है तो उसे मजबूती से और बहुत ही दिमाग लगाकर निर्णय लेना पड़ता है किस गोटी को आगे बढ़ाया जाए ताकि जल्दी से घर में पहुंचकर जीत सकते हैं।
  • तनाव कम होता है क्योंकि जब यह गेम खेला जाता है तो हर तरह के दिमागी टेंशन भूल कर पूरी तरह से मनोरंजीत होकर इस खेल को खेला जाता है और इससे बड़ा फायदा यह होता है कि दिमागी बीमारी होने का खतरा बहुत ही कम हो जाती है।
  • ऐसा माना जाता है कि लूडो खेलने से ब्लड प्रेशर भी कम होता है जब कोई खिलाड़ी अपने प्रतिद्वंदी खिलाड़ी के गोटी को मारता है तो उसके अंदर एक बहुत ही बड़े जीत का एहसास होता है और उसे बहुत खुशी होती है।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 5 / 5. Vote count: 1

No votes so far! Be the first to rate this post.

Leave a Comment