लिनक्स क्या हैं उपयोग फायदे एवं विशेषता

लिनक्स क्या है Linux kya hai किसी भी प्रकार के कंप्यूटर लैपटॉप मोबाइल टेबलेट में Operating System को सबसे पहले इंस्टॉल किया जाता है तभी उस डिवाइस को जब हम लोग ओपन करते हैं तो पूरी तरह से ऑपरेटिंग सिस्‍टम उस डिवाइस को चालू करने में या प्रोसेस करने का प्रक्रिया शुरू करता है.

जिस तरह से लैपटॉप या कंप्यूटर में विंडोज ऑपरेटिंग सिस्‍टम या फिर यूनिक्स ऑपरेटिंग सिस्‍टम में या और भी तरह की जो ऑपरेटिंग सिस्‍टम है उसका इस्तेमाल किया जाता है.

ठीक उसी प्रकार से लिनक्‍स ऑपरेटिंग सिस्‍टम का भी इस्तेमाल कंप्यूटर लैपटॉप मोबाइल टेबलेट या वर्तमान समय में बहुत सारे वाहन में भी लिनक्स Operating System का इस्तेमाल किया जा रहा है तो आइए इस लेख में हम लोग लिनक्‍स क्या है और किस तरह से काम करता है इसका उपयोग क्या है  पूरी जानकारी विस्तृत रूप से नीचे प्राप्त करते हैं. इंटरनेट क्या हैं

Linux kya hai लिनक्स क्या हैं

Linux ऑपरेटिंग सिस्‍टम है जिसका उपयोग किसी भी लैपटॉप डेस्कटॉप कंप्यूटर टेबलेट मोबाइल या फिर वाहन में भी उपयोग किया जाता है लिनक्‍स ऑपरेटिंग सिस्‍टम एक बहुत ही अच्छा ऑपरेटिंग सिस्‍टम है जिसका इस्तेमाल अधिकतर कंपनियों में या फिर परसनल यूज़ के लिए भी किया जाता है.

Linux Operating System को चलाना थोड़ा कठिन है क्योंकि लिनक्‍स ऑपरेटिंग सिस्‍टम एक हाई प्रोग्रामिंग Operating System है जिस को ऑपरेट करने के लिए प्रोग्रामिंग अथवा टेक्नोलॉजी का जनकारी होना जरूरी है.

इसीलिए Linux ऑपरेटिंग सिस्‍टम का इस्तेमाल सभी लोग अधिकतर अपने सिस्टम में नहीं करते हैं क्योंकि जिन लोगों के पास टेक्नोलॉजी का गहरा जानकारी ना हो उन लोगों के लिए Linux Operating System का इस्तेमाल करना आसान नहीं है.ऑनलाइन पैसे कैसे कमाएं

Linux kya hai in hindi

History of Linux in Hindi लिनक्‍स का इतिहास

Linux ऑपरेटिंग सिस्‍टम को वर्ष 1991 में छात्र के द्वारा अपने पर्सनल उपयोग के लिए Linux करनाल ऑपरेटिंग सिस्‍टम को तैयार किया गया जिस को सबसे पहले उस छात्र के द्वारा इस्तेमाल किया गया धीरे धीरे Linux करनाल ऑपरेटिंग सिस्‍टम को और भी विकसित समय समय से किया गया.

जो कि आज Linux Operating System के नाम से जाना जाता है और इसका उपयोग कंप्यूटर वायरस से प्रोटेक्ट करने के लिए अधिकतर इस ऑपरेटिंग सिस्‍टम का इस्तेमाल भी किया जाता है.

लिनक्‍स ऑपरेटिंग सिस्‍टम ऑल न्यू Operating System के तुलना में बहुत ही ज्यादा सुरक्षित सिक्योर रिलेबल और वायरस मुक्त Operating System है जिसका इस्तेमाल बड़े-बड़े कंपनियों में किया जाता है.

ताकि उनके डाटा को वायरस से सुरक्षित रखा जाए एवं इस ऑपरेटिंग सिस्‍टम का इस्तेमाल करने से कंप्यूटर कभी भी पूरी तरह से शट डाउन नहीं होता है क्योंकि Linux Operating System कभी भी पूरी तरह से क्रैश नहीं होता है.

करनाल क्या होता है 

करनाल (Kernel) कंप्यूटर का एक प्रोग्राम होता है जोकि Operating System को पूरी तरह से कंट्रोल करता है करनाल ऑपरेटिंग सिस्‍टम का ही एक हिस्सा होता है जो कंप्यूटर के सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर के बीच में एक कनेक्टर का काम करता है.

Linux का मालिक कौन है 

लिनक्स का मालिक लीनियस टोरभालाडस (Linus Torvalds) हैं. इन्होंने ही अपने स्वयं का यूज़ के लिए Linux ऑपरेटिंग सिस्‍टम को डिवेलप किया था जिसका इस्तेमाल किसी भी व्यक्ति के द्वारा फ्री में उपयोग किया जाता है क्योंकि इन Linux एक फ्री ली ओपन सोर्स ऑपरेटिंग सिस्‍टम है जिसका इस्तेमाल करने के लिए पैसा खर्च करने की जरूरत नहीं है.

Linux को सबसे पहले डिवेलप करने के बाद इसमें बहुत ही ज्यादा समय समय से बदला होता गया Operating System में बहुत से लोगों का योगदान रहा जिनके द्वारा इस को समय-समय पर और ज्यादा विकसित किया गया.

इसीलिए इस ऑपरेटिंग सिस्‍टम का किसी एक व्यक्ति का नाम नरक करके इसे Linux के लाइसेंस को GPLV2 के नाम से घोषित किया गया जिसमें इस Operating System को डिवेलप करने में शामिल सभी लोगों का सहमति प्रदान हैं.

Linux के फायदे क्या है 

  • एक ओपन सोर्स फ्री ऑपरेटिंग सिस्‍टम है
  • इस Operating System का इस्तेमाल करने पर वायरस का खतरा नहीं रहता है
  • यह ऑपरेटिंग सिस्‍टम बहुत ही ज्यादा सुरक्षित और सिक्योर है
  • Operating System कभी भी पूरी तरह से सट डाउन नहीं होता है.
  • विंडोज की तरह यह सॉफ्टवेयर का भी पूरी तरह से क्रश नहीं होता है.
  • Linux का इस्तेमाल विद्यालय घर कंपनियों में डाटा को पूरी तरह से सुरक्षित रखने के लिए किया जाता है
  • लिनक्स सॉफ्टवेयर ऑपरेटिंग सिस्‍टम को खरीदने के लिए किसी भी प्रकार के लाइसेंस की जरूरत नहीं है
  • लिनक्स operating system का इस्तेमाल अधिकतर गेम्स या ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करने के लिए Linux ओ एस का इस्तेमाल किया जाता है.

लिनक्‍स का विशेषता क्या है 

1. लिनक्स को सी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज में लिखा गया है जिससे इस ऑपरेटिंग सिस्‍टम को किसी भी प्रकार के हार्डवेयर से संबंध नहीं रखा गया है यह पूरी तरह से अपने आप को किसी भी मैकिनटोश को चलाने में सक्षम है.

2. Linux ऑपरेटिंग सिस्‍टम को एक साथ multi-user के द्वारा उपयोग किया जा सकता है क्योंकि इस Operating System को बहुत ही ज्यादा सुरक्षित और सशक्त बनाया गया है ताकि एक साथ इस ऑपरेटिंग सिस्‍टम के द्वारा अनेक या एक से अधिक यूज़र इसका इस्तेमाल कर सकें इस Operating System का इस्तेमाल करने से एक साथ का यूजर अलग-अलग डेक्सटॉप पर लॉगइन करके एक साथ स्वतंत्र रूप से अपना अलग कार्य को कर सकते हैं.

3. लिनक्स ऑपरेटिंग सिस्‍टम को नेटवर्किंग ऑपरेटिंग सिस्‍टम के रूप में विकसित किया गया है ताकि एक साथ एक समूह को काम करने के लिए नेटवर्क के द्वारा जोड़ा जा सके ताकि सभी लोग एक साथ अपने अलग-अलग डेक्सटॉप पर अपना कार्य कर सकें.

4. Linux Operating System का इस्तेमाल वैसे अधिकतर लोग तो नहीं करते हैं लेकिन धीरे-धीरे इसका उपयोग दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है क्योंकि इस ऑपरेटिंग सिस्‍टम का इस्तेमाल करने से एंटीवायरस का कोई आवश्यकता नहीं पड़ता है और यह पूरी तरह से सुरक्षित और सिक्योर है.

5. लिनक्स एक मल्टीप्रोग्रामिंग Operating System है जिसका मतलब है कि एक साथ एक समय में कई एप्लीकेशन को चलाया जा सकता है.

Linux का डिसएडवांटेज क्या है 

1. लिनक्स फ्री ओपन ऑपरेटिंग सिस्‍टम है लेकिन इसका इस्तेमाल करना सभी लोगों के लिए आसान नहीं है क्योंकि इस Operating System को ऑपरेट करने के लिए टेक्निकल जानकारी होना आप बहुत ही जरूरी है तभी आप इस ऑपरेटिंग सिस्‍टम का इस्तेमाल अच्छे से कर सकते हैं.

2. Linux Operating System में किसी भी सॉफ्टवेयर को इंस्टॉल करना थोड़ा कठिन होता है इसलिए भी बहुत सारे लोग इस ऑपरेटिंग सिस्‍टम का इस्तेमाल नहीं करते हैं जबकि विंडोज Operating System में किसी भी सॉफ्टवेयर को इंस्टॉल करना आसान होता है.

3. लिनक्स ऑपरेटिंग सिस्‍टम को सभी प्रकार के कंप्यूटर हार्डवेयर सपोर्ट नहीं करते हैं और Linux ऑपरेटिंग सिस्‍टम में बहुत तरह के ऐसे भी प्रोग्राम होते हैं जो कि Linux Operating System को सपोर्ट नहीं करते हैं.

Linux और विंडोज ऑपरेटिंग सिस्‍टम में अंतर क्या है

  • लिनक्स फ्री ओपन ऑपरेटिंग सिस्‍टम है जबकि विंडो एक फ्री ओपन ऑपरेटिंग सिस्‍टम नहीं हैं.
  • Linux Operating System में सीडी ड्राइव नहीं होते हैं जबकि विंडोज Operating ऑपरेटिंग सिस्‍टम में सीडी ड्राइव होते हैं.
  • लिनक्स ऑपरेटिंग सिस्‍टम को चलाना आसान नहीं है इस ऑपरेटिंग सिस्‍टम को इस्तेमाल करने के लिए टेक्निकल जानकारी होना चाहिए जबकि विंडोज Operating System को चलाने के लिए ज्यादा टेक्निकल जानकारी होने की जरूरत नहीं है विंडोज ऑपरेटिंग सिस्‍टम को नॉनटेक्निकल व्यक्ति भी चला सकता है.

Linux और यूनिक्स में क्या अंतर है 

लिनक्स ऑपरेटिंग सिस्‍टम और  यूनिक्स ऑपरेटिंग सिस्‍टम दोनों में काफी ज्यादा समानता है यूनिक्स ऑपरेटिंग सिस्‍टम को केन थाम्पसन डेनिश रिची और द्वारा बेल लैब्स में वर्ष 1970 में इस यूनिक्स ऑपरेटिंग सिस्‍टम को विकसित किया गया था.

यूनिक्स ऑपरेटिंग सिस्‍टम को Linux Operating System के तरह बनाया गया था दोनों सिस्टम में प्रोग्रामिंग और लेआउटस एक ही तरह का इस्तेमाल किया गया था लेकिन यूनिक्स ऑपरेटिंग सिस्‍टम स्वतंत्र नहीं है जबकि लैनिक्स ऑपरेटिंग सिस्‍टम पूरी तरह से फ्री और स्वतंत्र है.

सारांश  (Linux kya hai)

Linux kya hai लिनक्स क्या है लिनक्‍स का इतिहास क्या है लिनक्‍स ऑपरेटिंग सिस्‍टम क्या है और इसका उपयोग किस तरह से किया जाता है इसके फायदे क्या है विशेषता क्या है लाइनक्स के बारे में इस लेख में पूरी जानकारी दी गई है.

संबंधित यदि कोई सवाल आपके मन में हो तो कृपया कमेंट करके जरूर पूछें और लिनक्स के बारे में यह जानकारी आपको कैसा लगा कृपया कमेंट जरुर करें और इस जानकारी को अपने दोस्त मित्रों के साथ शेयर भी जरूर करें.

ravi
नमस्कार रवि शंकर तिवारी ज्ञानीटेक रविजी ब्लॉग वेबसाईट के Founder हैं। वह एक Professional blogger भी हैंं। जो कंप्‍यूटर ,टेक्‍नोलॉजी, इन्‍टरनेट ,ब्‍लॉगिेग, SEO, एमएस Word, MS Excel, Make Money एवं अन्‍य तकनीकी जानकारी के बारे में विशेष रूचि रखते हैंं। इस विषय से जुड़े किसी प्रकार का सवाल हो तो कृपया जरूर पूछे। क्‍योकि इस ब्‍लॉग का मकसद लोगो बेहतर जानकारी उपलब्‍ध कराना हैंं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here