कीवर्ड क्या होता हैं, कीवर्ड प्रकार व कीवर्ड डेंसिटी क्‍या हैं

कीवर्ड क्या होता हैं Keyword kya hai in hindi, what is keyword in hindi  यदि आप ब्लॉगिंग के क्षेत्र में काम कर रहे हैं या फिर आप एक नए ब्लॉगर हैं तो भी आपको कीवर्ड के बारे में जानकारी होना बहुत ही जरूरी हैं. यदि आप एक नए ब्लॉगर हैं तो आप कीवर्ड का नाम जरूर सुने होंगे कीवर्ड्स एक ऐसा शब्द हैं जिससे आपको ब्लॉगिंग के क्षेत्र में सफलता के शिखर पर पहुंचा सकता हैं.

इसलिए कीवर्ड के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करना बहुत ही जरूरी हैं. कीवर्ड क्या होता हैं सर्च करते हुए इस पोस्ट पर आए हैं तो यहां पर आपको कीवर्ड के बारे में पूरी जानकारी नीचे विस्तार से मिलने वाला हैं.ब्लॉगिंग के क्षेत्र में कीवर्ड होता हैं किसी टॉपिक का पूरा कंटेंट तैयार करते हैं कीवर्ड कैसा होना चाहिए कीवर्ड को कितने लोग सर्च करते हैं कीवर्ड का डिफिकल्टी कितना हैं कीवर्ड पर सीपीसी कितना हैं.

इन सभी चीजों के बारे में जानकारी एक कीवर्ड पर निर्भर करता हैं. जब तक आप सही कीवर्ड पर काम नहीं करेंगे तब तक आपके वेबसाइट पर ट्रैफिक नहीं आता हैं ब्लॉग के लिए सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन के लिए ब्लॉग से बेहतर कमाई के लिए ब्लॉग को गूगल में बेहतर रैंकिंग प्रदान करने के लिए कीवर्ड का ही पूरा खेल होता हैं इसलिए कीवर्ड के बारे में बेहतर जानकारी रखना बहुत ही महत्वपूर्ण हैं.

Keyword kya hai in hindi

कीवर्ड दो शब्दों से मिलकर बना हैं key + word जिसका हिंदी में मतलब शब्द का चाबी होता हैं. इंटरनेट पर जब कभी भी किसी भी चीज के बारे में कुछ जानकारी प्राप्त करना होता हैं उस समय किसी एक शब्द को लिखा जाता हैं उसी शब्द को कीवर्ड कहते हैं.

ब्लॉगिंग की दुनिया में जब किसी कीवर्ड की बात होती हैं तब कीवर्ड एक ब्लॉगर के लिए ज्यादा महत्वपूर्ण हो जाता हैं क्योंकि एक कीवर्ड से पूरा कंटेंट तैयार होता हैं आईए एक उदाहरण से कीवर्ड को समझते हैं.

जैसे गूगल में इंडिया के बारे में जानना चाहते हैं तो उसके लिए गूगल में India  को लिखेंगे सर्च करेंगे तब इंडिया से संबंधित जानकारी दिखने लगेगा अब इंडिया एक कीवर्ड शब्द हैं ठीक ऐसे ही जब किसी भी टॉपिक के बारे में कुछ लिखना होता हैं उससे पहले एक कीवर्ड को खोजना पड़ता हैं जिस कीवर्ड से एक पूरा ब्लॉग तैयार होता हैं.

keyword kya hai in hindi language

कीवर्ड का परिभाषा क्या होता हैं 

कीवर्ड एक ऐसा शब्द हैं जिससे एक पूरा कंटेंट्स तैयार होता हैं जिसमें उस कीवर्ड से संबंधित पूरी जानकारी दी गई होती हैं. कीवर्ड एक छोटा शब्द होता हैं.

जिस पर एक पूरा ब्लॉग लिखा जाता हैं जब कभी भी कोई यूज़र के द्वारा उस कीवर्ड से संबंधित सर्च किया जाता हैं तब उस कीवर्ड के बारे में पूरा लिखा गया जितना कंटेंट होता हैं वह सारा इंटरनेट पर दिखने लगता हैं.

गूगल में जाकर जब किसी Keyword को सर्च किया जाता हैं तो वहां पर ढेर सारे रिजल्ट दिखने लगते हैं लेकिन जिस कीवर्ड को सर्च किया जाता हैं उससे सटीक संबंधित जो आर्टिकल्स पोस्ट होते हैं वह सबसे पहले ऊपर में दिखाई देते हैं.

क्योंकि उस पोस्ट में कीवर्ड का अच्छे से इस्तेमाल किया गया हैं उस पोस्ट को SEO-friendly तैयार किया गया हैं जिसके कारण गूगल के फर्स्ट पोजीशन या गूगल के फर्स्ट पेज पर सारे कांटेक्ट जो सिमिलर होते हैं वह दिखाया जाते हैं.

कीवर्ड कितने प्रकार का होता हैं

मुख्य रूप से कीवर्ड दो प्रकार के होते हैं

  • Long tail keyword
  • Short tail keyword

Long tail keyword:- गूगल में जब भी किसी कीवर्ड को सर्च किया जाता हैं तब उस कीवर्ड का आकार या तो बड़ा हो सकता हैं या छोटा हो सकता हैं Long tail कीवर्ड वैसे कीवर्ड होते हैं जिस कीवर्ड का आकार 3 से अधिक शब्दों का होता हैं वैसे कीवर्ड को long-tail कीवर्ड कहते हैं.

एक नए ब्लॉगर के लिए long-tail कीवर्ड बहुत ही उपयोगी हैं क्योंकि शुरुआत के दिनों में एक नए ब्लॉगर को long-tail कीवर्ड पर ही काम करना चाहिए जिससे उसका ब्लॉग तो गूगल में रैंक करने का चांसेस बढ़ जाता हैं साथ ही साथ long-tail कीवर्ड पर कंपटीशन भी कम होता हैं इसलिए long-tail कीवर्ड का उपयोग करना अच्छा होता हैं.

Short tail keyword:- शॉर्ट टेल Keyword वैसे कीवर्ड होते हैं जोकि ज्यादातर एक से तीन शब्द से बना होता हैं जैसे कि computer kya hai एक Short tail कीवर्ड हैं कंप्यूटर कीवर्ड पर डिफिकल्टी ज्यादा हो सकता हैं क्योंकि यह शार्ट टेल्स कीवर्ड हैं ठीक इसी तरह जितने भी Short tail कीवर्ड होते हैं उस पर रन करना मुश्किल होता हैं तथा कंपटीशन भी ज्यादा होता हैं

इसलिए Short tail Keyword पर गूगल में रैंक कर पाना थोड़ा मुश्किल होता हैं इसलिए long-tail कीवर्ड पर काम करना ज्यादा बेहतर होता हैं. Short tail कीवर्ड 1 से 3 शब्‍द के होते हैं वैसे कीवर्ड को Short tail कीवर्ड कहते हैं.

SEO के लिए कीवर्ड का महत्व 

सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन में सबसे ज्यादा महत्व Keyword का होता हैं क्योंकि पूरा सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन कीवर्ड पर ही डिपेंड होता हैं क्योंकि जब किसी पोस्ट का ऑन पेज SEO किया जाता हैं उस समय उस मेन कीवर्ड का बहुत बड़ा भूमिका होता हैं जिस पर पूरा कांटेक्ट लिखा गया होता हैं.

जिस कीवर्ड पर हम लोग पूरा कंटेंट तैयार करते हैं उस कीवर्ड से संबंधित उस पोस्ट में पूरी जानकारी को लिखना उस कीवर्ड का उस पोस्ट में इस्तेमाल करना यह सभी सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन के लिए बहुत ही जरूरी होता हैं.

क्योंकि आप कितना भी अच्छा एक पोस्ट तैयार कर लेते हैं और उसमें कीवर्ड का अच्छे से इस्तेमाल नहीं किया जाता हैं तब तक उस पोस्ट का कोई मतलब नहीं होता हैं.

क्योंकि बिना कीवर्ड को अच्छे से ऑप्टिमाइज किए उस पोस्ट को गूगल में रैंक कराना नामुमकिन सा होता हैं इसलिए एक किसी पोस्ट को गूगल में रैंक करने से लेकर के गूगल ऐडसेंस से ज्यादा कमाई करने तक ब्लॉगिंग में सफलता दिलाने तक कीवर्ड का महत्व और पूरा योगदान होता हैं.

कीवर्ड डेंसिटी क्या हैं

जब एक पूरा ब्लॉग पोस्ट तैयार कर लिया जाता हैं तो उसमें Keyword का उपयोग कितना बार किया गया हैं मेन कीवर्ड में जो संबंधित कीवर्ड हैं उस कीवर्ड का उस पूरे पोस्ट में कितना बार उपयोग किया गया हैं इसको कीवर्ड डेंसिटी कहा जाता हैं.

जैसे यदि एक पोस्ट को 1000 शब्द में लिखा गया हैं तो उसमें मेन कीवर्ड को कितना बार उपयोग किया गया हैं या उसने मेन कीवर्ड को कितना बार लिखना चाहिए यह भी बहुत जरूरी हैं. यदि एक पोस्ट 1000 शब्द का हैं तो उसमें मेन कीवर्ड एक से दो परसेंट तक उपयोग किया जा सकता हैं.

इसका मतलब हुआ कि मेन कीवर्ड को 10 से 20 बार तक लिखा जा सकता हैं. लेकिन एक अच्छे ऑप्टिमाइज पोस्ट में कीवर्ड्स का उपयोग 1% नहीं करना चाहिए यदि आपका पोस्ट 1000 शब्दों का हैं तो उसमें आप मेन कीवर्ड 10 बार उपयोग कर सकते हैं.

क्योंकि मेन कीवर्ड को ज्यादा पोस्ट में लिखने से गूगल के नजर में keyword stuffing issue की समस्या होता हैं इसलिए कीवर्ड को पोस्ट में बार बार इस्तेमाल करने से बचना चाहिए. इसलिए एक पोस्ट के अंदर मेन कीवर्ड का इस्तेमाल सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन के नियम के अनुसार होना चाहिए तभी आप अपने कीवर्ड को गूगल में अच्छे से रैंक करा पाएंगे.

कांटेट में कीवर्ड का उपयोग

जब भी ब्लॉग पोस्ट को तैयार किया जाता हैं तो उसमें Keyword का कहां-कहां उपयोग करना चाहिए आइए नीचे जानते हैं.

  • ब्लॉग पोस्ट के टाइटल में कीवर्ड का उपयोग करें
  • ब्लॉग पोस्ट के शुरुआत के 150 शब्दों में मेन Keyword को लिखें
  • Blog पोस्ट के हेडिंग में मेन कीवर्ड को डालें
  • फोकस कीवर्ड में मेन कीवर्ड को लिखें
  • SEO टाइटल में मेन कीवर्ड को लिखें
  • Permalink में मेन कीवर्ड को लिखें
  • मेटा डिस्क्रिप्शन में मेन कीवर्ड का उपयोग दो बार करें
  • टैग में मेन कीवर्ड को लिखें.

LSI कीवर्ड क्‍या हैं

LSI KA FULL FORM:- Latent Semantic Keyword होता हैं. एक ब्‍लॉब पोस्‍ट में जो मेन कीवर्ड होते हैं उससे संबंधित जितने भी शब्‍द होते हैं उसको गूगल के बोट के द्वारा पहचान किया जाता हैं क्‍योंकि गूगल ये पता करता हैं कि जिस कीवर्ड पर पोस्‍ट को टारगेट किया गया हैं उससे संबंधित जानकारी इस पोस्‍ट में लिखा गया हैं या नहीं.

कीवर्ड कैसे ढूंढे

जब भी किसी भी पोस्ट को लिखने हैं की बात आती हैं तो सबसे पहले अनेक Keyword के बारे में सोचना पड़ता हैं कीवर्ड या टॉपिक सर्च करने के लिए answer the public वेबसाइट तो गूगल में सर्च कर सकते हैं और इस वेबसाइट में जा कर के जो भी आप का मेन कैटेगरी हैं

उससे संबंधित कोई भी keyword को टाइप करेंगे तो वहां पर ढेर सारे टॉपिक कीवर्ड के रूप में दिखने लगता हैं वहां से जिस कीवर्ड पर आपको पोस्ट लिखना हैं उस पर लिख सकते हैं. कीवर्ड सर्च करने के लिए टॉपिक सर्च करने के लिए कोरा का उपयोग कर सकते हैं गूगल ट्रेंड गूगल क्वेश्चन हब का उपयोग कर सकते हैं.

कीवर्ड रिसर्च कैसे करें

जब भी आप किसी टॉपिक के बारे में ब्लॉग लिखने की तैयारी करते हैं उससे पहले उस Keyword के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त कर लें कीवर्ड के बारे में पूरी जानकारी पाने के लिए semrush का उपयोग कर सकते हैं.

semrush में फ्री में 10 कीवर्ड रिसर्च कर सकते हैं semrush में उस कीवर्ड का डिफिकल्टी सर्च बैलूम और उससे संबंधित जो कीवर्ड हैं उसके बारे में भी जानकारी मिल जाता हैं.

कीवर्ड्स के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए गूगल में जाकर keyword surfer एक्सटेंशन को इंस्टॉल कर सकते हैं उसके बाद जब भी आप गूगल में किसी Keyword को सर्च करेंगे तो वहां पर आपको उसका सर्च वॉल्यूम देखने लगेगा. किसी भी कीवर्ड के बारे में जानकारी पाने के लिए आप गूगल का कीवर्ड प्लानर टूल का भी इस्तेमाल कर सकते हैं.

फोकस कीवर्ड क्या हैं

एक पूरा ब्लॉग पोस्ट में दी गई पूरी जानकारी एक मुख्‍य वर्ड पर तैयार किया जाता हैं उसी को फोकस कीवर्ड कहते हैं जब भी वर्डप्रेस में किसी भी पोस्ट का सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन किया जाता हैं.

तब उसमें एक फोकस कीवर्ड का ऑप्शन होता हैं जिसमें उस मेन कीवर्ड को लिखा जाता हैं उसी मेन कीवर्ड को फोकस Keyword कहते हैं जब भी सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन किसी ब्लॉग का किया जाता हैं तो उसमें उसका मुख्य फोकस Keyword ही होता हैं.

Keyword stuffing kya hai in hindi

जब भी किसी ब्लॉग पोस्ट में मेन कीवर्ड को ज्यादा बार लिखा जाता हैं ज्यादा बार इस्तेमाल किया जाता हैं उसे Keyword stuffing कहा जाता हैं ज्यादा कीवर्ड को बार-बार किसी भी ब्लॉग पोस्ट में इस्तेमाल करने से गूगल के नजर में उसका अच्छा SEO नहीं माना जाता हैं इसलिए अपने ब्लॉग पोस्ट में कीवर्ड stuffing से बचना चाहिए.

सारांश

कीवर्ड क्या होता हैं कीवर्ड क्‍या हैं के बारे में इस पोस्ट में हमने पूरी जानकारी देने का प्रयास किया हैं फिर भी यदि कीवर्ड से संबंधित कोई भी सवाल आपके मन में हैं तो कृपया कमेंट करके जरूर पूछें कीवर्ड के बारे में दी गई जानकारी आपको कैसा लगा.

कृपया कमेंट करके जरूर बताएं और इस जानकारी को अपने दोस्त मित्रों के साथ शेयर भी जरूर करें.

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

Leave a Comment