गूगल एडसेंस की सीपीसी कैसे बढ़ायें

Google Adsense CPC Increase – गूगल एडसेंस अप्रूवल मिल जाने के बाद बहुत से लोगों को यह परेशानी रहता हैं कि, हम अपने ब्लॉग वेबसाइट का CPC कैसे बढ़ाएं Google adsense ki cpc kaise badhaye क्योंकि शुरुआती दिनों में जानकारी नहीं होने का कारण CPC बहुत ही ज्यादा कम रहता हैं.

जिससे कमाई भी बहुत कम होता हैं. एक ब्लॉगर के लिए सीपीसी बढ़ाना बहुत ही जरूरी हैं. क्योंकि बिना सीपीसी बढ़ायें उनका कमाई अच्छा नहीं हो सकता हैं यदि आप भी सीपीसी कैसे बढ़ाएं इसको ले करके परेशान हैं तो यहां पर आपको CPC बढ़ाने के बारे में पूरी जानकारी नीचे मिलने वाला हैं.

इस पोस्ट में गूगल एडसेंस का सीपीसी कैसे बढ़ायें इसके बारे में हमने 9 मुख्‍य बातें बताया हैं. जिससे आप अपने ब्लॉग का गूगल एडसेंस का सीपीसी बढ़ा सकते हैं तो, आइए गूगल एडसेंस का सीपीसी कैसे बढ़ायें. इसके बारे में नीचे हम लोग पूरी जानकारी स्टेप बाय स्टेप प्राप्त करते हैं. 

Google Adsense ki CPC kaise badhaye

गूगल गूगल एडसेंस का सीपीसी कैसे बढायें  एक नए वेबसाइट ब्लॉगर के लिए बहुत ही बड़ा समस्या रहता हैं कि शुरुआती दिनों में उनको अच्छा CPC नहीं मिल पाता हैं.

क्योंकि उनको पता नहीं होता हैं कि, किस तरह से गूगल एडसेंस  का इस्तेमाल करके हम सीपीसी बढ़ा सकते हैं. गूगल एडसेंस का सीपीसी बढ़ाने के लिए कई तरह के बातों पर ध्यान देना पड़ता हैं. तभी गूगल एडसेंस का सीपीसी बढ़ाया जा सकता हैं.

Google adsense ki cpc kaise badhaye

गूगल एडसेंस सीपीसी क्या हैं   

CPC का मतलब होता हैं कॉस्ट पर क्लिक . CPC का फुल फॉर्म कॉस्ट पर क्लिक होता हैं. सीपीसी क्या हैं इसके बारे में यदि समझा जाए तो जब किसी भी व्यक्ति के द्वारा आपके वेबसाइट के ऊपर किसी एक क्लिक किया जाता हैं और उसके बदले में जो पैसा मिलता हैं.

उसी प्रक्रिया को सीपीसी कहते हैं. जैसे 1 दिन में 5 व्यक्तियों ने आपके ऐड पर क्लिक किया तो, हर एक क्लिक पर कितना पैसा आपको मिला इसी को सीपीसी कहते हैं.

क्वालिटी कंटेंट लिखें

गूगल एडसेंस अप्रूवल पाने के लिए सीपीसी बढ़ाने के लिए सबसे मुख्य जो बात हैं वह हैं क्वालिटी कांटेक्ट क्योंकि क्वालिटी कांटेक्ट पर ही सीपीसी पूरी तरह से डिपेंड होता हैं जितना अच्छा आप कांटेक्ट लिखते हैं उतना ही अच्छा आपको CPC मिल सकता हैं.

इसलिए अपने वेबसाइट के अंदर कांटेट को पूरी तरह से यूनिक बनाएं और अच्छा कांटेक्ट लिखें. उसको ठीक तरह से लुक प्रदान करें. उसमें हेडिंग पैराग्राफ छोटा रखें और इस तरह से कांटेट लिखे कि लोग पढ़ करके आसानी से समझ सके.

कीवर्ड रिसर्च करके पोस्ट लिखें

नए ब्लॉगर के साथ यह समस्या होता हैं कि, उनको कीवर्ड रिसर्च या सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं होता हैं और वह किसी भी टॉपिक पर पोस्ट लिखना शुरू कर देते हैं. उनको यह पता नहीं होता हैं कि कौन सा टॉपिक पर किस तरह से लोग सर्च करके आते हैं.

उसमें कौन सा कीवर्ड का इस्तेमाल करना चाहिए. उसका सर्च वॉल्यूम क्या हैं. CPC क्या हैं. इन सभी चीजों के बारे में नए ब्लॉगर को पता नहीं होता हैं. जिसके कारण उनको सीपीसी अच्छा नहीं मिल पाता हैं. इसलिए कीवर्ड रिसर्च करके पोस्ट को लिखें.

वर्डप्रेस में लाइट थीम का उपयोग करें 

ब्लॉग वेबसाइट बनाते समय एक नए ब्लॉगर को पता नहीं होता हैं कि किस तरह का थीम का उपयोग अपनी वेबसाइट के लिए करना चाहिए. ताकि उससे अच्छा सीपीसी मिल सके. क्योंकि आपके ब्लॉग वेबसाइट का जो लुक और डिजाइन होता हैं वह आपके थीम पर ही डिपेंड करता हैं.

साथ ही साथ रिस्पांस भी होना चाहिए और लाइट थीम होना चाहिए. ताकि वह Google में जल्दी लोड हो सके. साथ ही साथ paid थीम का उपयोग करना चाहिए. लेकिन यदि आप एक नए ब्लॉगर हैं तो आप जेनरेटप्रेस, Astra या फ्री लाइट थीम का उपयोग कर सकते हैं.

हाई सीपीसी वाला कीवर्ड रिसर्च करें

शुरुआत के दिनों में कीवर्ड रिसर्च के बारे में पूरी जानकारी नहीं होता हैं जिसके चलते केवल Search volume और Difficulty पर ही ध्‍यान देते हैं जबकि cpc को भी ध्‍यान में रखना होता हैं. कि किसी कीवर्ड पर कितना सीपीसी हैं.

यदि आपके किसी keyword पर सर्च वॉल्यूम ज्यादा हैं. लेकिन CPC उस पर नहीं हैं तो आपको ज्यादा सीपीसी नहीं मिल सकता. इसलिए वैसे कीवर्ड पर पोस्ट लिखें जिस पर सीपीसी ज्यादा हो.

ऑटो एड्स का उपयोग करें 

हाई CPC यानि की ज्यादा सीपीसी पाने के लिए मैं अपने अनुभव के आधार पर आपको ऑटो एड्स इस्तेमाल करने का सलाह दूंगा. क्योंकि मैं ऑटो एड्स का इस्तेमाल करता हूं. और उसके मैनुअल एड्स के तुलना में ऑटो एड्स पर ज्यादा सीपीसी मिलता हैं इसलिए ऑटो ऐड्स का उपयोग करें.

रेस्पॉन्सिव ऐड क्रिएट करें

यदि आप अपनी वेबसाइट के होम पेज पर कुछ मैनुअल एड्स भी रखना चाहते हैं या फिर आप अपने ads inserter plugin में ads code को सेट करते हैं.तो उसके लिए आप रेस्पॉन्सिव ऐड को क्रिएट करें.

क्योंकि रेस्पॉन्सिव ऐड मोबाइल टेबलेट या फिर डेक्सटॉप कंप्यूटर में उसके साइज के अनुसार अपने आप फिक्स हो जाता हैं. जिस पर क्लिक होने पर आपको अच्छा सीपीसी मिलता हैं. इसलिए कभी भी आप रेस्पॉन्सिव एड्स को क्रिएट करके ही उसको अपने वेबसाइट में सेट करें.

गूगल एडसेंस पॉलिसी

Google Adsense से ज्यादा सीपीसी पाने के लिए जो गूगल एडसेंस  का पॉलिसी हैं उसका पालन करना चाहिए नहीं तो आप कितना भी प्रयास करलें आपको CPC ज्यादा नहीं मिलेगा और हो सकता हैं कुछ दिनों में आपका अकाउंट डिसेबल्ड हो जाएगा.

फिर परमानेंटली बंद भी किया जा सकता हैं. इसलिए गूगल एडसेंस का पॉलिसी के अनुसार आप काम करें तो, आपको अच्छा सीपीसी मिल सकता हैं.

ब्लॉग पोस्ट में ज्यादा ऐड का इस्तेमाल नहीं करें

कुछ लोगों को ऐसा लगता हैं कि ज्यादा ऐड का ब्लॉग में इस्तेमाल करने से ज्यादा पैसा कमा सकते हैं. लेकिन ऐसा नहीं हैं. जितना ज्यादा आप ऐड का इस्तेमाल करेंगे उतना ही कम सीपीसी मिलेगा.

इसलिए आपने ब्लॉग पोस्ट में ज्यादा से ज्यादा आप 4 या 5ed का इस्तेमाल करें. वह भी तब जब आपका पोस्ट पंद्रह सौ शब्दों का हो अगर इससे कम शब्द का आपका पोस्ट हैं तो, आप उसमें तीन ही ऐड का इस्तेमाल करें तो आपको अच्छा CPC मिलेगा

गूगल एडसेंस अकाउंट को पूराना होने दें 

एक नए Google Adsense अकाउंट में जो आते हैं वह टेक्स्ट हैं या फिर इमेज ही आते हैं. जिससे सीपीसी कम मिलता हैं. इसलिए आप अपने गूगल एडसेंस अकाउंट को पूरा ना होने दें. उस पर वीडियो ऐड में ज्यादा जब आना शुरू हो जाएगा तो, आपको अच्छा CPC मिलेगा.

इसलिए आप परेशान न हो धीरे-धीरे आपका CPC जरूर बढ़ जाएगा गूगल एडसेंस का जब भी कुछ नया अपडेट आता हैं या फिर नया ऐड लगाने के बारे में कोई सूचना प्राप्त होता हैं तो, आप अपने वेबसाइट में नया ads को क्रिएट करके और समय-समय से अपडेट करते रहें.

Block Low CPC ad network 

गूगल एडसेंस  में CPC बढ़ाने के लिए सबसे जरूरी है कि आप Google Adsense अकाउंट को ओपन करके और पूरा डिटेल्स चेक करें उसमें यह पता करे कि किस ads नेटवर्क से मुझे कम सीपीसी मिल रहा है तथा जीरो सीपीसी मिल रहा है वैसे जितने भी ऐड नेटवर्क है उसको एक-एक करके  ब्लॉक कर दें.

जिससे आपका सीपीसी इनक्रीस होगा तथा वैसे कोई भी ऐड आपके वेबसाइट पर नहीं दिखाई देगा जिसमें CPC कम है.

ऐड नेटवर्क को ब्लॉक करते समय आपको यह ध्यान रखना है कि Google एडवर्ड को आपको कभी भी ब्लॉक नहीं करना है. क्योंकि इसी से आपका कमाई होता है और यही मुख्य ऐड नेटवर्क है. जिससे आपका सीपीसी अच्छा मिलता है इसलिए कभी भी आप इसको ब्लॉक नहीं करें.

बाकी और जितने भी लो CPC ऐड नेटवर्क है उन सभी ऐड नेटवर्क को एक-एक करके आप ब्लॉक कर दे इससे आपका सीपीसी जरूर इनक्रीस होगा.

गूगल ऐडसेंस की सीपीसी बढ़ाने के लिए कुछ प्रमुख बातें

  • गूगल ऐडसेंस या अपने वर्डप्रेस डैशबोर्ड में गूगल एड्स से संबंधित सेटिंग को बार-बार इधर उधर न करें
  • एक बार जब अपने ब्लॉग में ऐड को सेटअप कर देते हैं उसके अगले 7 दिन के बाद ही उसमें किसी तरह का बदलाव करें
  • गूगल ऐडसेंस कि सीपीसी बढ़ाने के लिए गूगल ऐड नेटवर्क में जाकर के जिस नेटवर्क से सीपीसी नहीं मिल रहा है उसको ब्लॉक कर दें.
  • ऐडसेंस सीपीसी बढ़ाने के लिए गूगल ऐडसेंस में optimization में जाकर के Experiment पर क्लिक करें उसके बाद auto optimization on करके Save कर दें
  • इसको करने के बाद गूगल ऐडसेंस के द्वारा आपको कुछ सलाह दिया जाएगा कि आपको किस तरह से अपने ऐडसेंस का उपयोग करना है जिससे आपका सीपीसी बढ़ेगा गूगल अपने आप सजेस्ट करेगा कि आप इस तरह से काम करें ताकि आपका गूगल ऐडसेंस का सीपीसी बढ़ जाए.
  • इस सेटिंग को आप जरूर ऑन करें.
  • गलत तरीके से अपने एड्स पर क्लिक होने से बचाएं तथा अपने दोस्त मित्र के साथ ऐड पर क्लिक करने के लिए प्रोत्साहित नहीं करें.

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

2 thoughts on “गूगल एडसेंस की सीपीसी कैसे बढ़ायें”

Leave a Comment