कंप्यूटर के जनक कौन थे? Father of Computer in hindi

Computer ke janak kaun hai हम सभी लोग लगभग टेक्नोलॉजी स्मार्टफोन लैपटॉप कंप्यूटर से जुड़े हुए हैं. लेकिन हम सभी के मन में यह सवाल कभी न कभी जरूर आता होगा की फादर ऑफ कंप्यूटर कौन है, कंप्यूटर का जनक कौन है.

Father of Computer in Hindi  कंप्यूटर के जनक कौन थेे या फिर कंप्यूटर का आविष्कार किसने किया था यह हम सभी के मन में सवाल जरूर आता होगा.

तो इस लेख में हम लोग फादर ऑफ कंप्यूटर के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करने वाले हैं. जिनको कंप्यूटर का जनक कहा जाता है फादर ऑफ कंप्यूटर के बारे में यानी कि कंप्यूटर के जनक  के बारे में पूरी जानकारी पाने के लिए इस लिंक को आप लोगों को पूरा पढ़ना होगा.

Father of Computer in Hindi कंप्यूटर के जनक कौन थेे

कंप्यूटर के पिता चार्ल्स बैबेज उन्होंने ही सबसे पहले कंप्यूटर को एक अर्थमैटिक लॉजिक यूनिट यानी कि कंप्यूटर प्रोग्राम के रूप में सबसे पहले अविष्कार किया था. वैसे दुनिया में कंप्यूटर शब्द के आने के पहले भी टेक्नोलॉजी यानी गणना से संबंधित कुछ आविष्कार हुआ था. जो एक कैलकुलेटर मशीन के रूप में जाना जाता है.

कंप्यूटर शब्द का जब एक आकार और एक उसका ढांचा और उसे कंप्यूटर संबंधित कार्यों का करने का एक मशीन को बनाने का पूरा श्रेय चार्ल्स बैबेज को ही जाता है.

क्योंकि इन्होंने ही सबसे पहली बार एक ऐसा मशीन तैयार किया था. जिस पर प्रोग्रामिंग अर्थमैटिक लॉजिक यूनिट का कार्य करना प्रारंभ हुआ था.

Father of Computer in Hindi 

चार्ल्स बैबेज के बारे में  

चार्ल्स बैबेज का जन्म 26 दिसंबर 1791 में हुआ था वह इंग्लैंड के निवासी थे. जिनका जन्म इंग्लैंड के लंदन में हुआ था बचपन से ही उनका गणितीय कैलकुलेशन से बहुत ही लगाव था. गणित के एक जाने-माने अविष्कारक एवं गणितज्ञ थे.

चार्ल्स बैबेज को कंप्यूटर के अलावा अन्य क्षेत्रों में भी अच्छे कार्यों के लिए याद किया जाता है. चार्ल्स बैबेज गणित के साथ-साथ अंग्रेजी एवं बहुभाषी के भी जानकारी रखने वाले व्यक्ति थे.

जिनके पास गणित इंजीनियरिंग अर्थव्यवस्था से संबंधित कंप्यूटर विज्ञान राजनीति से संबंधित बहुत ही गहरी जानकारियां थी. वह एक प्रतिभाशाली एवं अविष्कारक के रूप में भी दुनिया में जाने जाते हैं. जिनको हम लोग फादर ऑफ कंप्यूटर के नाम से जानते हैं.

चार्ल्स बैबेज का शिक्षा एवं प्रसिद्ध

Charles Babbage का शिक्षा इंग्लैंड के पीटरहाउस कैंब्रिज यूनिवर्सिटी के द्वारा हुआ था. जो कि एक गणित के अच्छे छात्र हुआ करते थे. उनका बचपन से रुचि गणित और कंप्यूटर से संबंधित कार्यों के निर्माण एवं अंग्रेजी के साथ बहुत ही ज्यादा उनका लगाव था. चार्ल्स बैबेज को गणित और कंप्यूटर के क्षेत्र में सबसे अधिक प्रसिद्धि प्राप्त हुआ.

चार्ल्स बैबेज का मृत्यु  

फादर ऑफ कंप्यूटर कंप्यूटर के जनक चार्ल्स बैबेज का मृत्यु मार्लीबोन लंदन इंग्लैंड शहर में हुआ 1871 में 18 अक्टूबर को वह 79 वर्ष की उम्र में इस दुनिया से अलविदा हुए.

कंप्यूटर से पहले किन डिवाइसों का आविष्कार हुआ था

 कंप्यूटर का आकार और कंप्यूटर के नाम आने से पहले दुनिया में सबसे पहले Abacus का नाम के एक केलकुलेटर का आविष्कार हुआ था. जो कि दुनिया में आज से 5000 वर्ष पहले चीन के द्वारा इस ऐप का केलकुलेटर का अविष्कार किया गया.

जिससे केवल छोटी-छोटी अंको को जोड़ने का काम किया जाता था. उस मशीन के द्वारा गुणा भाग नहीं किया जा सकता था. केवल जोड़ के कामों के लिए उपयोग किया था.

दुनिया का सबसे पहला मशीन और एक कैलकुलेटर के रूप में उसी का आविष्कार हुआ था. उस के बाद से धीरे-धीरे उसमें और भी विकास करते हुए कुछ केलकुलेटर मशीन का आविष्कार किया गया.

जिसमें और भी कुछ गणितीय कार्यों को किया जाने लगा और उसके बाद चार्ल्स बेबेज के द्वारा वर्ष 1833 में पहली बार एक कंप्यूटर के रूप में मशीन को तैयार किया गया.

जिसमें गणितीय कल का नाम अर्थमैटिक लॉजिक यूनिट एवं प्रोग्रामिंग लैंग्वेज इस्तेमाल भी किया जाने लगा. और तब से आज तक हम लोग कंप्यूटर का उपयोग करते आ रहे हैं.  कंप्यूटर के जनक के रूप में हम लोग उनको याद करते हैं. और उनके इस कंप्यूटर मशीन के आविष्कारक के रूप में जानते हैं.

निष्कर्ष  

Father of Computer in Hindi इस लेख में हमने कंप्यूटर के पिता फादर ऑफ कंप्यूटर चार्ल्स बेबेज के बारे में और कंप्यूटर के जनक कौन थे.

फादर ऑफ कंप्यूटर यानी कि चार्ल्स बेबेज से संबंधित और भी किसी प्रकार के आपको जानकारी या कोई सवाल मन में आ रहा हो तो कृपया कमेंट करके अवश्य पूछे. फादर ऑफ कंप्यूटर के बारे में यह जानकारी कैसा लगा कृपया कमेंट करके जरूर बताएं और अपने दोस्त मित्रों के साथ शेयर भी करें.

3 thoughts on “कंप्यूटर के जनक कौन थे? Father of Computer in hindi”

  1. आपने बहुत अच्छी तरह से फादर ऑफ कंप्यूटर चार्ल्स बैबेज के बारे में जानकारी दी है.

    Reply
  2. आप ने फादर औफ कंप्यूटर पर बेहतरीन लेख साझा किया है, में पहले टाइम आप के वेबसाइट पर आयी हु और वाकही मुझे जिस जानकारी की तलाश थी वो आप के ब्लॉग के द्वारा मुझे प्राप्त हो गयी है

    Reply

Leave a Comment