एएलयू का फुल फॉर्म क्‍या होता हैं

एएलयू का Full Form  कंप्यूटर में सबसे महत्वपूर्ण होता हैं Alu ka full form in hindi क्‍या होता हैं सीपीयू के अंदर एक बहुत ही महत्वपूर्ण हिस्सा ALU होता हैं अब सवाल यह हैं कि ALU का काम CPU में क्या हैं और यह किस तरह से काम करता हैं इसका क्या योगदान होता हैं सीपीयू के अंदर और किस काम के लिए यह जुड़ा रहता हैं.

जिस तरह से शरीर में अलग-अलग तरह के अंग होते हैं. ठीक उसी प्रकार कंप्यूटर के भी कितने पार्ट्स होते हैं. सीपीयू के जितने पार्ट्स होते हैं उसमें भी अलग-अलग तरह के पार्ट्स से जुड़े होते हैं, और यह सभी पार्ट्स सीपीयू या कंप्यूटर के अंदर बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं.

जैसे हम लोग अपने शरीर में हाथ या और भी जितने अंग हैं सभी पूरी तरह से काम करते हैं तभी हम लोग स्वस्थ रहते हैं. और अच्छे से काम कर पाते हैं ठीक उसी प्रकार सीपीयू के अंदर ALU का भी काम सीपीयू को पूर्ण रूप से चलाना अथवा उसको प्रगतिशील बनाए रखना होता हैं.

एएलयू का फुल फॉर्म

एएलयू – अर्थमैटिक लॉजिक यूनिट होता. जिसको हिंदी में अंकगणित और तार्किक इकाई कहते हैं. सीपीयू के अंदर जितने भी मुख्य पार्ट्स होते हैं उनमें से एक अर्थमैटिक लॉजिक यूनिट भी सीपीयू का मुख्य पार्ट्स होता हैं.

कंप्यूटर का ब्रेन यानी दिमाग सीपीयू को कहा जाता हैं. सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट को सिस्टम यूनिट के नाम से भी जाना जाता हैं और सिस्टम यूनिट के अंदर ALU होता हैं.

  • ALU Full Form:- Arithmetic logic unit
  • ALU ka full form hindi me:- अंकगणित एवं तार्किक इकाई

Alu ka full form in hindi

एएलयू क्या हैं

अर्थमैटिक लॉजिक यूनिट नाम से यह पता चलता हैं कि कंप्यूटर में जितने भी प्रकार के कैलकुलेशन होता हैं. यानी कि जोड़, घटाव, गुणा, भाग, परसेंटेज एड्रेस या अन्य जितने भी प्रकार के गणना किए जाते हैं.

यह सारा प्रोसेस सीपीयू में जो ALU यानी कि आर्थिक लॉजिक यूनिट हैं. इसी के द्वारा किया जाता हैं. सीपीयू के अंदर एक ब्लॉक में एक डिजिटल सर्किट होता हैं जिसमें यह ALU लगा रहता हैं. चाहे एक लैपटॉप हो या डेस्कटॉप या फिर सीपीयू सब में एक प्रोसेसर होता हैं.

जिसमें एक डिजिटल सर्किट भी होता हैं. जिसका उपयोग अंकगणित और तार्किक प्रोसेस यानी कि जितने भी कैलकुलेशन होता हैं उसको करने के लिए उपयोग किया जाता हैं.

एएलयू कैसे काम करता हैं

जिस तरह से हम इंसान सभी प्रकार के भाषाओं को नहीं समझते हैं. ठीक उसी प्रकार कंप्यूटर में जब हम लोग हिंदी अंग्रेजी अन्य किसी और भाषा में कुछ लिखते हैं, तो कंप्यूटर उसको नहीं समझता हैं. तब कंप्यूटर जो हैं उन सभी भाषाओं को अपने भाषा यानी कि बाइनरी लैंग्वेज में उसको कन्वर्ट कर लेता हैं, और उसको जीरो और एक के रूप में बदल कर के कार्य को प्रोसेस करता हैं.

यह जीरो और एक बाइनरी संख्या के रूप में जो डाटा कंप्यूटर को प्राप्त होता हैं. उसमें यदि किसी भी प्रकार के लॉजिकल ऑपरेशन हो या फिर कैलकुलेशन हो उसको करने के लिए सीपीयू या कंप्यूटर मेमोरी के अंदर जो ALU डिजिटल कीट जुड़े होते हैं. उसके द्वारा यह सारे कामों को किया जाता हैं.

Processor में जो डिजिटल सर्किट ALU के रूप में जुड़ा रहता हैं. जब बायनरी नंबर सिस्टम में कन्वर्ट करके जीरो के रूप में इंटर होता हैं, तो उसको यह ट्रांजिस्टर open के रूप में रिप्रेजेंट करता हैं. जबकि बाइनरी नंबर 1 को जब सिस्टम binary में कन्वर्ट करके समझता हैं closed ट्रांजिस्टर से करंट को पास करके रिप्रेजेंट करता हैं.

एएलयू कहां रहता हैं 

ALU सी पी यू के साथ जुड़ा रहता हैं. सीपीयू में प्रोसेसर होता हैं. प्रोसेसर से डिजिटल सर्किट के रूप में ALU कनेक्टेड होता हैं. चाहे एक सीपीयू हो या फिर लैपटॉप हो या डेक्सटॉप ऑल इन वन कंप्यूटर हो सब में यह प्रोसेसर के साथ डिजिटल सर्किट के रूप में जुड़ा रहता हैं.

सर्वप्रथम एएलयू  का प्रस्ताव

सीपीयू के अंदर एल यू का काम होता हैं. कैलकुलेशन अथवा अंकगणितीय कामों को करना और इसका प्रस्ताव सबसे पहले वर्ष 1945 में गणितज्ञ जान वान न्यूमैंन ने दिया था.

सीपीयू के अंदर मुख्य पार्ट्स के बारे में 

जैसा कि ऊपर हम लोग ALU के बारे में जानकारी प्राप्त किए हैं, तो इसमें सीपीयू के जो मुख्य तीन महत्वपूर्ण पार्ट्स होते हैं. उसको भी हम लोग नीचे जान लेते हैं. क्योंकि सीपीयू में के अलावा और दो महत्वपूर्ण पार्ट्स होते हैं और यह सीपीयू के तीन मुख्य पार्ट्स कंप्यूटर के सीपीयू में बहुत ही महत्वपूर्ण हैं.

  • Arithmetic logic unit
  • Control unit
  • Memory

एएलयू को कंप्यूटर में कब इंप्लीमेंट किया गया

वर्ष 1945 में न्यू मैन के द्वारा ALU का प्रस्ताव देने के बाद, वर्ष 1967 में ALU को सबसे पहली बार कंप्यूटर यानी सीपीयू में इंक्लीमेंट किया गया था.

एएलयू को पहली बार कंप्यूटर में किसने इंप्लीमेंट किया 

कंप्यूटर सीपीयू के अंदर ALU को पहली बार फेयर चाइल्ड ने कंप्यूटर सिस्टम में इंप्लीमेंट किया था.

ये भी पढ़े

सारांश

ऊपर दी गई जानकारी बहुत ही महत्वपूर्ण हैं. क्योंकि सीपीयू के अंदर जो तीन मुख्य पार्ट्स होते हैं. उसमें एक एएलयू भी होता हैं. जिसका सीधा कनेक्शन प्रोसेसर के साथ जुड़ा रहता हैं.

ALU का मतलब क्या होता हैं यदि 1 लाइन में समझा जाए तो ALU का मतलब अंकगणित अथवा गणित मैथमेटिक्स कैलकुलेशन आदि के कामों को कंप्यूटर में संचालित करने के लिए प्रोसेसर के साथ ALU प्रोसेस करता हैं.

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

Leave a Comment